शिक्षकों ने काली पट्टी बांध सड़क पर मनाया शिक्षक दिवस, सरकार से की बड़ी मांग

बुरहानपुर, शेख रईस। मध्यप्रदेश के बुरहानपुर में आज शिक्षक दिवस के अवसर पर अनोखा कहे या अपने भविष्य को लेकर शिक्षकों की टीस देखने को मिली अमूमन हर वर्ष सभी स्कूलो को शिक्षक दिवस पर बच्चो द्वारा अपने शिक्षक के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित कर उन्हें पुष्प गुच्छ, उपहार स्वरूप कोई तौफा देकर उनका मन बढ़ते है। लेकिन कोरोना संक्रमण की मार से देश का भविष्य सवारने वाले शिक्षक बहेद खराब दौर से गुज़र रहे है स्कूल संचालकों सहित सहित स्टाफ शिक्षक सब के सब आर्थिक रूप से टूट चुके है। जिसको लेकर शिक्षक दिवस पर शिक्षकों सहित स्कूल संचालकों ने आज काली पट्टी बांध कर सरकार से गुहार लगाई है।

बुरहानपुर प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अंतर्गत स्कूल संचालकों और प्राचार्य ने हाथ पर काली पट्टी बांधकर स्थानीय तहसील कार्यालय के पास सर्वपल्ली राधाकृष्णन की तेल चित्र पर माल्यार्पण कर शिक्षक दिवस मनाया ।
एसोसिएशन का कहना है कि सरकार ने अनलॉक 4 में भी स्कूल खोलने को लेकर कोई गाइडलाइन नहीं तैयार की है और ना ही प्राइवेट शिक्षकों की ओर कोई ध्यान दिया जा रहा है। सभी स्कूले बंद है इसलिए हमने आज प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अंतर्गत शिक्षक दिवस सड़क पर ही मनाया है और सरकार से मांग करते हैं कि वह स्कूल खोलने के संबंध में कोई पहल करें । साथ ही हाईकोर्ट के आदेश अनुसार ट्यूशन फीस पालको से दिलाने का प्रयास करें जो शिक्षक पिछले 6 माह से घर पर बैठे हैं उन्हें बेरोजगारी भत्ता दे। वही जो स्कूल किराए के भवन में संचालित हो रही है और जिन स्कूलों की बैंक ईएमआई लगातार जारी है उस पर भी राहत दिलवाने की पहल करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here