बारिश का कहर, दीवार गिरने से बच्ची घायल, नदी नाले भी उफान पर, फसलें भी हुई चौपट

बागली, सोमेश उपाध्याय

लगातार हो रही बारिश के चलते हादसे हो रहे हैं। बागली के पास बेहरी गाँव में दीवार गिरने से मासूम बालिका दीपिका पिता प्रेम चौधरी गम्भीर घायल हो गई ।प्राप्त जानकारी अनुसार गाँव मे बागली पहुचने का एक मात्र मार्ग पर पानी अधिक होने से बागली नही ले जाया सका।स्थानीय पत्रकार लखन दांगी की पहल के बाद जनपद सीईओ अमित व्यास ने आशा कार्यकर्ता को घर भेजा।प्राथमिक स्थानीय निजी चिकित्सक ने किया।

शुक्रवार को हुई भारी बरसात के कारण जगह-जगह हुए जलभराव आदि की समस्या से अभी निजात भी नहीं मिल पाई थी कि एक बार फिर झमाझम बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। गंदगी के चलते नालियां चोक हो गईं। इससे बरसात का पानी गलियों में भर गया और लोगों के घरों में जा घुसा। वही बारिश के कारण जिले भर की नदी नाले उफान पर होने से आवागमन बन्द है!उदयनगर से इन्दौर मार्ग बन्द हो गया। मगरादे मर्ग पर पुलिया उफान पर है। उदयनगर से बड़वाह मार्ग पर लोहरपिपलया पुल से पानी बहा रहा है।

पीपरी से धाराजी मार्ग बन्द होने से आवागमन पूर्ण रूप से बन्द है।बागली-चापड़ा मार्ग पर गुनेरा-गुनेरी की पुलिया,कालीसिंध मार्ग,हाटपिपल्या में नरसिंह घाट, आमलाताज से सोनकच्छ वाला मार्ग,देवगढ़ से बढ़िया मांडू मार्ग पर कालीसिंध आदि सहित जिलेभर की सभी रपटों पर पानी भरा होने से आवगम्न बाधित है!नेमावर में नर्मदा नदी पर भी बहाव तेज है!वही अधिकांश स्थानों पर मक्का की फसल गिर गई। महिगांव तालाब, पानकुआ, पारस बांध पूर्ण रूप से भर गए हैं।अधिकांश प्रमुख स्थानों पर प्रसाशनिक अधिकारी दल बल के साथ मौजूद है!

वही देवास कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला के निर्देश पर नगर निगम आयुक्त श्री विशालसिंह चौहान, एसडीएम श्री प्रदीप सोनी सहित अन्य अधिकारियों ने अतिवृष्टि वाले एवं जल जमाव वाले क्षेत्रों का निरीक्षण किया तथा अधिकारियों ने वस्तुस्थिति की जानकारी ली। कलेक्टर शुक्ला ने जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों, नदी-नालों, पुल-पुलिया ऊपर अधिकारियों एवं कर्मचारियों की ड्यूटी लगाकर सतत निगरानी रखें तथा वस्तुस्थिति की जानकारी भी तत्काल भिजवाने के निर्देश भी दिए!