एयर इंडिया के निजीकरण का सही समय नहीं

199
air-india-privatization-

मुंबई घाटे में चल रही एयर इंडिया के निजीकरण के प्रयास बेवक्त किये जाने की बात स्वीकार करते हुए नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि एयरलाइन तब तक लाभ नहीं उठा सकती जब तक कि इसकी उच्च वित्तीय लागत के मुद्दों को नहीं निबटाया जाता है। गौरतलब है कि सरकार करीब एक साल तक योजना पर काम करने के बाद इस साल की शुरूआत में विमान सेवा के लिए एक आवेदक की तलाश करने में विफल रही। प्रभु ने कहा, असल में समय एयर इंडिया के निजीकरण के लिए गलत था। यह वह समय है जब वैश्विक एयरलाइन उद्योग की हालत भी अच्छी नहीं थी। उन्होंने कहा कि एयरलाइन तब तक मुनाफा नहीं कमा सकती हैं जब तक हम इसकी वित्तीय लागत समस्या के साथ नहीं निपटते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here