Credit Card Fraud: बढ़ रहे हैं क्रेडिट कार्ड फ्रॉड के मामले, ना करें ये काम, ऐसे करें बचाव, जानें

Credit Card Fraud: भारत में बैंकिंग धीरे-धीरे डिजिटल होती जा रही है। इसी के साथ फ्रॉड के मामले भी बढ़ते जा रहे हैं। पिछले कुछ वर्षों में क्रेडिट कार्ड के जुड़े धोखाधड़ी के आँकड़े बढ़ते जा रहे हैं। आपकी जरा सी गलती पूरा अकाउंट खाली कर सकती है। यदि आप भी क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं और भविष्य में फ्रॉड का शिकार नहीं बनना चाहते हैं तो इन टिप्स को आजमा सकते हैं।

कार्ड के खर्च को करें सीमित

क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल पर लिमिट लगाने की सुविधा भी मिलती है। आप अपनी जरूरत के हिसाब से इसके खर्च को सीमित कर सकते हैं। ऑनलाइन लेन-देन मर्चेन्ट, आउटलेट स्वाइप और अन्य सुविधाओं के इस्तेमाल पर आप अलग-अलग लिमिट लगा सकते हैं।

सावधान रहने की जरूरत

यदि आप क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो एक्टिव रहने की जरूरत है। हर महीने बिल को चेक करते रहे हैं। इससे किसी प्रकार की गड़बड़ी और ट्रांजैक्शन का पता चल जाता है।

कार्ड की जानकारी शेयर करने की गलती न करें

अपने कार्ड की जानकारी को पर्सनल रखें। अपने क्रेडिट का पासवर्ड, पिन और मोबाईल बैंकिंग का पासवर्ड किसी से भी साझा ना करें। बैंक भी किसी दोस्त, परिवार और अन्य को पिन-पासवर्ड ना शेयर करने की सलाह देता है। इतना ही नहीं पब्लिक वाईफाई का इस्तेमाल करते समय क्रेडिट कार्ड का ऑनलाइन इस्तेमाल करने से बचे।