Upcoming IPO: 21 फरवरी को निवेशकों को मिलेगा दांव खेलने का मौका, खुलेगा इस कंपनी का आईपीओ

Upcoming IPO: यदि आप भी उन लोगों में से हैं, जिन्हें ग्रे मार्केट में रुचि है। तो यह खबर आपके काम की साबित हो सकती है। इन्डस्ट्रीयल कहेमिल, सॉल्वेनट्स और Active Pharmaceutical Ingredients का कारोबार करने वाली कंपनी अपना इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग कल यानि 21 फरवरी 2023 को लाने का जा रही है। कंपनी का नाम पैट्रॉन एक्जिम लिमिटेड (Patron Exim Limited) है।

निवेश इस ऑफरिंग में 24 फरवरी तक दांव लगा पाएंगे। जिसकी प्राइस 27 रुपये प्रति शेयर है। इन्वेस्टर्स एक लॉट की बोली लगा पाएंगे। प्रत्येक लॉट में 4000 शेयरों को शामिल है। कंपनी 16.69 करोड़ रुपये के 6,180,000 शेयरों की पेशकश करेगी। वर्किंग कैपिटल आवश्यकताओं और पब्लिक इश्यू के खर्चों के लिए कंपनी अपना आईपीओ ला रही है।

इस पब्लिक ऑफरिंग में प्रोमोटर्स की प्री इश्यू शेयर होल्डिंग 97.06% है। वहीं पोस्ट शेयर होल्डिंग 71.18% है। प्रोमोटरों के नाम नरेंद्र कुमार गंगारामदास पटेल और सुशीला बहन नरेंद्र कुमार पटेल है। आईपीओ की लिस्टिंग बीएसई और एसएमई पर 6 मार्च 2023 तक हो सकती है।

अहमदाबाद स्थित पैट्रॉन एक्जिम लिमिटेड साल 1992 से सक्रिय दवा समाग्री, इन्डस्ट्रीयल केमिकल्स, एक्सीपिएन्ट और सॉल्वेन्ट के ट्रेड और डिस्ट्रब्यूशन का काम कर रही है। इसके अलावा यह कंपनी विभिन्न केमिकल्स का करोबार भी देश के कई भागों में करती है। आईपीओ के लीड मैनेजर Interactive Financial Services है। वहीं रजिस्ट्रार बिग शेयर सर्विसेज़ प्राइवेट लिमिटेड है।

(Disclaimer: इस लेख का उद्देश्य केवल जानकारी साझा करना है। MP Breaking News शेयर मार्केट और आईपीओ में निवेश करने की सलाह नहीं देता। यह जोखिम भरा हो सकता है। विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।)


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News