1 जुलाई से क्या बैन हो जाएगा Amul? PMO को खत लिखकर मांगी राहत

सरकार ने नया फैसला लिया है कि अब बेवरेज कंपनियां अब सिंगल यूज प्लास्टिक यूज नहीं कर पाएंगी। जिसके बाद से पेप्सीको, कोको कोला और अमूल की कंपनी में कोलाहल मचा हुआ है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। सरकार ने नया फैसला लिया है कि अब बेवरेज कंपनियां अब सिंगल यूज प्लास्टिक यूज नहीं कर पाएंगी। जिसके बाद से पेप्सीको, कोको कोला और अमूल की कंपनी में कोलाहल मचा हुआ है। कंपनी ने इस पर राहत मांगी है, लेकिन सरकार अपने निर्णय पर अड़ी हुई है और कोई भी फैसला बदलने से इनकार कर दिया है।

यह भी पढ़ें – AC की वजह से आ रहा बंपर बिल तो यह डिवाइस लगाएं AC में, हो जाएगा आधा बिल

दरअसल कंपनी पैक्ट डेयरी उत्पाद के पदार्थों में उपयोग होने वाली प्लास्टिक और उसके साथ मिलने वाली स्ट्रॉ को 1 जुलाई से बंद कर रही है। इस कदम को उठते देख भारत की सबसे बड़ी दूध कंपनी अमूल ने उसके लिए सरकार को पत्र लिखा है। जिसमें उसने कुछ राहत की बात की है। अमूल ने अपने इस पत्र में लिखा है कि सरकार प्लास्टिक के स्ट्रॉ पर लगाने वाले अपने प्रतिबंध को वापस ले लें। इससे किसानों और दूध के खपत पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

यह भी पढ़ें – मां की गोदी में सोई बेटी को छीन ले गया तेंदुआ, पिता ने किया लाठी से वार लेकिन..

इसके पहले भी बहुत सी कंपनियों ने सरकार से आग्रह किया था कि वह प्लास्टिक के स्ट्रॉ पर छूट दे, लेकिन सरकार ने इसे सिरे से नकार दिया था। अमूल ने प्रधानमंत्री कार्यालय मैं गुहार लगाई है कि प्लास्टिक के स्ट्रॉ दूध की खपत को बढ़ाने में मदद करते हैं। सरकार के इस फैसले ने अमूल, पेप्सिको और कोको कोला सहित कई बेवरेज कंपनियों को मुश्किल में डाल दिया है। इस कारण से कंपनियों को वैकल्पिक स्ट्रॉ पर स्विच करने के लिए कहा गया है। जिसके लिए उन्हें कुछ समय चाहिए।

यह भी पढ़ें – विराट कोहली को पीछे छोड़, बाबर आजम ने बनाया नया रिकार्ड

अमूल के प्रबंधक निदेशक सोढ़ी ने सरकार को लिखे पत्र में कहा है कि इस फैसले को कुछ दिन के लिए आगे बढ़ा दें ताकि 10 करोड़ डेयरी किसानों को राहत मिले। रिपोर्ट के अनुसार प्लास्टिक स्ट्रॉ को कम करने के लिए पेपर स्ट्रॉ के साथ बदला जा सकता है। ₹5 से ₹30 के बीच की कीमत वाले जूस और दूध वाले प्रोडक्ट्स का भारत में बहुत बड़ा कारोबार है। अमूल, पेप्सीको और कोको कोला पेय पदार्थ पर इस स्ट्रॉ को पैक करके ग्राहकों तक पहुंचाती है।

यह भी पढ़ें – Car Discount Offer: कार खरीदने का देख रहे सपना तो इस महीने इन कारों पर मिलेगा आपको बंपर डिस्काउंट

सरकार के सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने के पिछले साल अगस्त में अधिसूचना जारी की थी। इसके बाद से 2022 जुलाई में तमाम तरह के स्ट्रॉ पर प्रतिबंध लगाने के लिए कहा गया था। इसके बाद केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने नोटिस जारी किया था। जिसे देखते हुए आप रीसाइक्लिंग बेवरेज पाटन के एक्शन एलायंस के प्रवीण अग्रवाल ने बताया कि कंपनियां प्रतिबंध को देखते हुए इंडोनेशिया और अन्य देशों से कागज के स्ट्रॉ के आयात करने पर विचार कर रही है।