तीसरी लहर को लेकर अलर्ट MP सरकार, सीएम शिवराज बोले-संक्रमण वाले राज्यों पर नजर रखें

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने  कहा कि MP में रेस्टोरेंट अब रात 11 बजे तक खोले जा सकेंगे। रात 11 से प्रात: 6 बजे का कर्फ्यू जारी रहेगा। 

MP

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। MP में  आज कोरोना 12 नए केस सामने आए है और वर्तमान में एक्टिव केसों की संख्या 202 हैं। राष्ट्रीय स्तर पर मध्यप्रदेश 32वें नंबर पर है। MP का रिकवरी रेट 98.6 प्रतिशत है, जबकि राष्ट्रीय दर 97.3 प्रतिशत है। सीएम शिवराज सिंह चौहान(Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि अधिक संक्रमण वाले देशों के साथ केरल और महाराष्ट्र जैसे राज्यों पर नजर रखी जाए। प्रदेश में संभाग स्तर सहित सुदूरवर्ती जिलों में कोरोना जाँच के लिए लेब विकसित की जाये, जिससे रिपोर्ट प्राप्त करने में विलंब न हो और तत्काल आवश्यक उपचार आरंभ किया जा सके।

यह भी पढ़े.. MP School Reopen: स्कूल खोलने को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का बड़ा बयान

आज कोरोना समीक्षा बैठक में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि MP में पिछले अनुभव को ध्यान में रखते हुए ऑक्सीजन की उपलब्धता का पूर्वानुमान लगाते हुए सभी जिलों में आवश्यक क्षमता विकसित की जाए।  समय रहते अस्पतालों की क्षमता बढ़ाने, उपकरणों और दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। 30 सितम्बर तक सभी ऑक्सीजन प्लांट आरंभ किये जाये। CT स्केन बड़ी चुनौती है, प्रदेश में इस सुविधा के विस्तार के लिए हरसंभव प्रयास किये जाये।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने  सभी प्रभारी मंत्रियों को अपने-अपने प्रभार के जिलों में अस्पतालों में जारी तैयारियों की सतत निगरानी के निर्देश दिए। अस्पतालों की क्षमता संवर्धन के कार्यों में आवश्यक समन्वय सुनिश्चित करने, समस्याओं के तत्काल निराकरण, उपलब्ध संसाधनों के रख-रखाव पर ध्यान देने के निर्देश दिए गए। तीसरी लहर आने की स्थिति में मरीज किन अस्पतालों में जाएंगे, ऑक्सीजन की आपूर्ति का स्वरूप क्या होगा, आवश्यक दवाओं और सामग्री की उपलब्धता आदि का सूक्ष्म नियोजन अभी से सुनिश्चित किया जाए। सभी औद्योगिक इकाइयाँ अपने यहाँ कार्यरत कर्मचारियों और मजदूरों का शत-प्रतिशत टीकाकरण निजी अस्पतालों में सुनिश्चित कराएँ।

यह भी पढ़े.. MP में BSP को बड़ा झटका- पूर्व महापौर प्रत्याशी समेत 1 दर्जन नेता कांग्रेस में शामिल

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने  कहा कि MP में रेस्टोरेंट अब रात 11 बजे तक खोले जा सकेंगे। रात 11 से प्रात: 6 बजे का कर्फ्यू जारी रहेगा।  सभी प्रभारी मंत्रियों को निर्देश दिए कि भीड़ भरे आयोजन नहीं किये जाये। छोटे आयोजनों की अनुमति है पर इनमें कोविड अनुकूल व्यवहार का शत-प्रतिशत पालन सुनिश्चित किया जाए। कोविड अनुकूल व्यवहार के पालन में बुरहानपुर में आयोजित कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए कहा कि आयोजनों में इस प्रकार के उदाहरण प्रस्तुत करने से जनता को कोरोना अनुकूल व्यवहार के लिए प्रेरित किया जा सकेगा।

सितंबर अक्टूबर में तीसरी लहर की आशंका

बैठक में अमेरिका, इंग्लैंड सहित महाराष्ट्र, केरल, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, उत्तरप्रदेश, कर्नाटक और असम में संक्रमण की स्थिति और ट्रेंड का प्रस्तुतिकरण दिया गया। जानकारी दी गई कि सितम्बर-अक्टूबर में तीसरी लहर की आशंका व्यक्त की जा रही है। कोरोना की तीसरी लहर की संभावनाओं को देखते हुए MP में जारी तैयारियों पर केन्द्रित इस बैठक में कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति और देश-दुनिया में संक्रमण की स्थिति को देखते हुए प्रदेश में संक्रमण की संभावना, टीकाकरण अभियान, अस्पतालों में संसाधनों को लेकर जारी तैयारी, ऑक्सीजन आपूर्ति, मानव संसाधन की उपलब्धता और प्रशिक्षण आदि पर प्रस्तुतिकरण दिया गया।

18+ में 1 करोड़ से ज्यादा का वैक्सीनेशन

MP में 08 लाख 57 हजार 320 हेल्थ केयर वर्कर, 8 लाख 90 हजार 246 फ्रंटलाइन वर्कर, 60 वर्ष से अधिक आयु समूह के 50 लाख 66 हजार 690 व्यक्तियों, 45 से 60 वर्ष आयु समूह के 68 लाख 96 हजार 963 व्यक्तियों और 18 से 44 वर्ष आयु समूह के 1 करोड़ 14 लाख 74 हजार 334 व्यक्तियों का टीकाकरण हो चुका है। बैठक में ग्वालियर जिले में टीकाकरण वेस्टेज को नियंत्रित करने के लिए प्रभावी उपाय करने और इसके लिए प्रशिक्षण पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए गए। दिसम्बर 2021 तक टीकाकरण की चरणबद्ध योजना का प्रस्तुतिकरण भी किया गया।

बढ़ेंगे ऑक्सीजन बेड, होंगे प्लांट्स स्थापित

तीसरी लहर की संभावनाओं को देखते हुए अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या बढ़ाने, ऑक्सीजन प्रबंधन, उपकरणों और दवाओं, मानव संसाधन तथा प्रशिक्षण और उपचार व्यवस्था की जानकारी दी गई। MP में 11 हजार 185 बेड उपलब्ध हैं और 3063 नए ऑक्सीजन बेड स्थापित किए जा रहे हैं। साथ ही चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा 750 ऑक्सीजन बेड बढ़ाए जा रहे हैं।ऑक्सीजन के लिए 186 PSA प्लांट्स स्थापित किए जा रहे हैं। इनमें से 34 ने कार्य करना आरंभ कर दिया है। शेष 152 पी.एस.ए. प्लांट्स 30 सितम्बर तक आरंभ हो जाएंगे। इससे 229 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की क्षमता प्राप्त होगी। इसके साथ चिकित्सा शिक्षा विभाग और जिला स्तर पर भी ऑक्सीजन प्लांट्स का कार्य जारी है, जो 30 सितम्बर तक पूर्ण होगा। ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, वेंटीलेटर, सी-पेप, बाय-पेप आदि की आपूर्ति भी प्रक्रिया में है।

1020 स्टाफ नर्स नियुक्त

MP में मई 2021 में 01 हजार 20 स्टाफ नर्स को नियुक्ति प्रदान की गई है। साथ ही 148 रेडियोग्राफर, 248 लेब टेक्निशियन को भी नियुक्त किया गया है। प्रदेश में 7,523 मेडिकल ऑफिसर, 15 हजार 999 स्टाफ नर्स, 26 हजार 301 आयुष मेडिकल ऑफिसर और 34 हजार 439 फील्ड वर्कर्स, 51 हजार 684 आशा और 14 हजार 217 ए.एन.एम. को कोविड से संबंधित प्रशिक्षण प्रदान किया गया है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र में झमाझम का दौर शुरु, अगले 24 घंटे में इन जिलों में भारी बारिश के आसार