Gwalior News: शव को रखकर चक्काजाम, 4-4 लाख मुआवजे की घोषणा, होगी अनुकम्पा नियुक्ति

प्रभारी मंत्री ने कहा कि घायल का निःशुल्क इलाज किया जायेगा।  उन्होंने कहा कि घटना की जाँच के आदेश दे दिए हैं जो भी अधिकारी दोषी होगा उसके खिलाफ निश्चित कार्रवाई होगी।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  महाराज बाड़े पर नगर निगम ग्वालियर (municipal corporation gwalior )के पुराने मुख्यालय भवन और पोस्ट ऑफिस की बिल्डिंग पर 15 अगस्त के लिए झंडा लगाने के दौरान हुए क्रेन टूटने से हुए हादसे में मृत नगर निगम के तीनों कर्मचारियों के परिजनों ने शव को रखकर चक्का जाम कर दिया वे मुआवजा राशि और अनुकम्पा नियुक्ति  दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे।  ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने महाराज बाड़े पहुंचकर समझाइश देकर जाम खुलवाया और सरकार द्वारा मंजूर 4-4 लाख रुपये मुआवजे की बात बताई।  उधर प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि मामले की जाँच में जो भी दोषी होगा उसपर निश्चित कार्रवाई होगी।

शनिवार को ग्वालियर नगर निगम (municipal corporation gwalior ) की हाइड्रोलिक मशीन (क्रेन) टूटने से हुए हादसे में जान गंवाने वाले नगर निगम के तीन कर्मचारियों के परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है।  उधर कर्मचारियों और शहर के लोगों में घटना  लेकर गुस्सा फूट पड़ा उन्होंने पोस्टमार्टम के बाद मृतकों के शव को महाराज बाड़े पर रखकर चक्काजाम कर दिया।  चक्काजाम की सूचना पर ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (pradyuman singh tomar) महाराज बाड़े पहुंचे उन्होंने आक्रोशित परिजनों को समझाया और कहा कि ये घटना दुखद है , हम सब उस परिवार के दुःख में शामिल हैं।  उन्होंने मुख्यमंत्री द्वारा मृतक के परिवार को 4-4 लाख  रुपये की मुआवज राशि और 50 हजार रुपये की तत्काल सहायता की घोषणा की और कहा कि मृतकों के परिवार के एक व्यक्ति को नगर निगम में अनुकम्प नियुक्ति दी जाएगी। ऊर्जा मंत्री ने बताया कि घटना की जाँच अपर कलेक्टर आशीष तिवारी करेंगे।

ये भी पढ़ें – MP College: विधायकों के लिए सुनहरा मौका, ऐसे उठा सकते है उच्च शिक्षा का लाभ

Gwalior News: शव को रखकर चक्काजाम, 4-4 लाख मुआवजे की घोषणा, होगी अनुकम्पा नियुक्ति

उधर कलेक्ट्रेट में पत्रकारों से बात करते हुए प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट (tulsiram silawat) ने कहा कि घटना बहुत  दुखद है , मुख्यमंत्री ने भी घटना पर दुःख जताया है, उन्होंने मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख मुआवजे, 50 हजार तात्कालिक सहायता राशि  और नगर निगम में अनुकम्पा नियुक्ति की घोषणा की है साथ ही घायल व्यक्ति को भी 50 हजार की सहायता राशि देने की घोषणा की है।  प्रभारी मंत्री ने कहा कि घायल का निःशुल्क इलाज किया जायेगा। उन्होंने कहा कि घटना की जाँच के आदेश दे दिए हैं जो भी अधिकारी दोषी होगा उसके खिलाफ निश्चित कार्रवाई होगी।

ये भी पढ़ें – Gwalior News: झंडा लगाते वक्त क्रेन टूटी, 3 की मौत, मौके पर प्रभारी मंत्री-पुलिस बल