IMD Alert : दिल्ली सहित इन राज्य में जल्द होगी मानसून की दस्तक, 20 राज्य में बारिश का अलर्ट, मानसून-प्री मानसून सहित पश्चिमी विक्षोभ का दिखेगा असर

मौसम विभाग (weather department) की माने तो जल्दी राजधानी दिल्ली समेत अन्य राज्य में मानसून-pre monsoon-पश्चिमी विक्षोभ  का प्रवेश-असर देखने को मिलेगा।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश के कई राज्य में मानसून (Monsoon 2022) का प्रवेश हो चुका है। IMD Alert की माने तो मानसून का प्रवेश होने के साथ एक तरफ जहां बारिश (rain alert) का सिलसिला शुरू हो गया। वहीं दूसरी तरफ प्री मानसून से भी कई राज्यों में बूंदाबादी भी देखने को मिल रही है। इसी बीच 22 राज्य में बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया। बिहार झारखंड से दूसरे राज्य के कई हिस्से में लगातार बारिश का दौर जारी है। वहीं राजधानी दिल्ली में भी बादल के बरसने से मौसम में नमी घुली हुई है। जिससे लोगों को राहत मिल रही है। मौसम विभाग (weather department) की माने तो जल्दी राजधानी दिल्ली समेत अन्य राज्य में मानसून-pre monsoon-पश्चिमी विक्षोभ  का प्रवेश-असर देखने को मिलेगा। इसके साथ ही देश को लू से राहत मिल गई है।

दरअसल किसी भी राज्य में हीटवेव और लू का अलर्ट जारी नहीं किया गया है। कई राज्यों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। इसके लिए IMD ने रेड और येलो अलर्ट जारी कर दिया है। IMD Alert की माने तो पूर्वी और दक्षिणी राज्य में बारिश का दौर जारी रहेगा। इसके अलावा इस साल वर्षों के रिकॉर्ड को तोड़कर चेरापूंजी में सबसे ज्यादा 400 मिलीमीटर से अधिक बारिश रिकॉर्ड की गई है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो इस बार मानसून के सामान्य रहने के साथ ही साथ से किसानों को राहत मिलने की संभावना जताई गई है।

इधर बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, आंध्र प्रदेश में बारिश की शुरुआत हो चुकी है। बिहार में मानसून के प्रवेश के साथ ही कई राज्यों में बाढ़ की स्थिति निर्मित हो गई है। लगातार हो रही बारिश से मौसम सुहावना बना हुआ है। झारखंड के कई जिलों में बारिश की संभावना जताई गई है। इसके अलावा पश्चिम बंगाल में भी बंगाल की खाड़ी से निर्मित हुए ट्रफ लाइन का असर देखने को मिल रहा है। पर्वतीय राज्यों की बात करें तो हिमाचल प्रदेश-लेह लद्दाख शिमला में भी गरज चमक के साथ बारिश शुरू हो चुकी है। कई क्षेत्रों में बारिश से भूस्खलन की स्थिति भी निर्मित हुई है।

अगले तीन दिनों के दौरान, दक्षिण-पश्चिम मानसून मध्य प्रदेश के अन्य हिस्सों, विदर्भ के शेष हिस्सों, आंध्र प्रदेश और पश्चिम-मध्य और उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में चला जाएगा। अगले चार से पांच दिनों के दौरान, मध्य प्रदेश, विदर्भ और छत्तीसगढ़ में गरज के साथ छींटे या बिजली के साथ व्यापक वर्षा, साथ ही तेज़ हवाएँ चलने की संभावना है। इस बीच, मध्य प्रदेश में 20 जून तक, विदर्भ में 19 जून तक और छत्तीसगढ़ में 21 जून तक अलग-अलग इलाकों में भारी बारिश का अनुमान है। IMD के अनुसार, अगले कुछ दिनों में, मानसून छत्तीसगढ़, ओडिशा और बिहार के साथ-साथ गंगीय पश्चिम बंगाल और झारखंड के कुछ हिस्सों में चला जाएगा।

Read More : Gold Silver Rate : सोना महंगा, जानिए 10 ग्राम सोने की कीमत

इस बीच, पूर्वोत्तर भारत, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में अगले चार दिनों तक भारी बारिश की संभावना है। उसके बाद, क्षेत्र में वर्षा गतिविधि कम होने की उम्मीद है। IMD ने अपने मौसम संबंधी परामर्श में कहा कि अगले 5 दिनों के दौरान पूर्वोत्तर भारत और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भारी से बहुत भारी बारिश के साथ व्यापक वर्षा संभव है। 18 जून, 2022 को असम और मेघालय के साथ-साथ अरुणाचल प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भी असाधारण रूप से उच्च वर्षा होने की संभावना है।

इसके अलावा छत्तीसगढ़ मध्य प्रदेश की बात करें तो छत्तीसगढ़ में लगातार बारिश देखने को मिल रही है। 3 दिन से मौसम में बदलाव नजर आ रहे हैं। इसके अलावा मध्य प्रदेश में मानसून की दस्तक होने के साथ ही कई जिलों में बारिश का दौर शुरू हो गया है। जिससे लोगों को बड़ी राहत मिली है। बता दे कि मध्य प्रदेश में इस बार गर्मी में तापमान 45 डिग्री पहुंच गया था। ऐसे में प्री मानसून और मानसून के प्रवेश का असर भी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ सहित हरियाणा पंजाब, गुजरात और राजस्थान जैसे राज्यों में नजर आ रहा है।

इधर केरल कर्नाटक तमिलनाडु महाराष्ट्र और गोवा में लगातार बारिश की संभावना बनी हुई है। लगातार हो रही बारिश से भी जनजीवन प्रभावित हो रहे हैं। इसके अलावा केरल कर्नाटक के कई हिस्से में बाढ़ की स्थिति निर्मित हुई है। लोगों को तट के करीब जाने से रोका जा रहा है। साथ ही कई क्षेत्रों में बिजली गिरने की संभावना जताई गई है। केरल कर्नाटक में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। बिहार के कई क्षेत्रों में बारिश का रेड और येलो अलर्ट जारी किया गया है।

आज राजधानी दिल्ली में बारिश की संभावना जताई गई है। गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने से मौसम सुहावना बनेगा। इधर असम मेघालय-मणिपुर- मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश में भी भारी बारिश का सिलसिला जारी है। भारी बारिश का कहर इन 7 राज्य में देखने को मिल रहा है। 1 महीने से लगातार इन 12 राज्य में हो रही बारिश से कई जगह की सड़कें क्षतिग्रस्त हो गई है। वहीं आवागमन बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं।