IMD Alert : गुजरात-उड़ीसा सहित इन राज्यों में बारिश का अलर्ट, कई क्षेत्रों में उमस से बढ़ेगी गर्मी, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

इसके अलावा नागालैंड, मणिपुर, मेघालय, त्रिपुरा, गुजरात, गोवा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना सहित केरल और माहे में भी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। मौसम (weather update) में बदलाव का सिलसिला जारी है। दरअसल एक बार फिर से उत्तर और उत्तर-पूर्व भारत के कई राज्यों में उमस (Humidity) देखने को मिल सकती है। वहीं तापमान (temperature) में दो से तीन फीसद की बढ़ोतरी भी दर्ज की जा सकती है। आईएमडी ने अपने अलर्ट (IMD Alert) में छत्तीसगढ़ उड़ीसा सहित मध्य प्रदेश बिहार झारखंड बंगाल असम मेघालय में भारी बारिश (rain alert) की संभावना जाहिर की गई है।इसके अलावा नागालैंड, मणिपुर, मेघालय, त्रिपुरा, गुजरात, गोवा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना सहित केरल और माहे में भी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है।

वहीं मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में बूंदाबांदी के बाद उमस की चेतावनी जारी की है। साथ ही राजधानी दिल्ली सहित पंजाब और हरियाणा में भी हल्की बूंदाबांदी के बाद उमस से तापमान में वृद्धि देखने को मिल सकती है।शनिवार को दक्षिण-पश्चिम मानसून पूरे भारत में पहुंच गया, जिससे गर्मी से बेहद राहत मिली। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के मुताबिक, उम्मीद से करीब छह दिन पहले मानसून राजस्थान, गुजरात और उत्तरी अरब सागर में पहुंच गया है। भारत में पहले ही कई स्थानों पर अच्छी बारिश हो चुकी है।

राजधानी दिल्ली में गुरुवार की सुबह मानसून की पहली बारिश देखी गई है दिल्ली में 117 मिलीमीटर बारिश का आंकड़ा रिकॉर्ड किया गया वहीं मध्य अरब सागर में 50 से 8 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल तेज हवा चलने की संभावना जारी की गई है गुजरात और पश्चिम बंगाल के चलने की संभावना जताई गई है।

मौसम सेवा ने बताया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून 8 जुलाई की सामान्य तिथि से छह दिन पहले शनिवार को पूरे देश में पहुंच गया। शनिवार को आईएमडी की सबसे हालिया एडवाइजरी में कहा गया है कि पश्चिमी तट पर अगले दो दिनों में व्यापक रूप से हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है, जबकि देश में कहीं और छिटपुट या अलग-अलग स्थानों पर बारिश हो सकती है।

Read More : Burhanpur News : ओवैसी के रोड़ शो निरस्त, कांग्रेस के लिए आज Kamal Nath भरेंगे हुंकार

हालाकि कुछ हिस्सों में तापमान बढ़ने का सिलसिला शुरू हो गया है। असम मेघालय सहित पंजाब हरियाणा राजधानी दिल्ली में तापमान में 2 फीसद की वृद्धि देखने को मिली है। जबकि अरुणाचल प्रदेश और राजस्थान के कई हिस्सों में तापमान सामान्य से 3 डिग्री सेल्सियस नीचे रिकॉर्ड दर्ज किया गया है। देश में सबसे अधिक तापमान सौराष्ट्र और कच्छ के दिन में अधिकतम 38.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

पूरे देश में हो रही बारिश की वजह से तापमान में भी गिरावट से कोर्ट की जा रही है। राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 26 जबकि अधिकतम 35 श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 22 व अधिकतम 32 सप्ताह बाद में न्यूनतम तापमान 27 जबकि अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। इसके अलावा राजधानी भोपाल में न्यूनतम तापमान 25 जबकि अधिकतम तापमान 32 चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 27 अप्रैल 5735 देहरादून में न्यूनतम तापमान 1 व अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जयपुर में न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

मुंबई में न्यूनतम तापमान 24 व अधिकतम तापमान 30 डिग्री, लखनऊ में न्यूनतम तापमान 27 जबकि अधिकतम तापमान 34 डिग्री, गाजियाबाद में न्यूनतम तापमान 27 व अधिकतम तापमान 33 डिग्री व न्यूनतम तापमान 25, Raanchi अधिकतम तापमान 33 डिग्री न्यूनतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

उत्तराखंड उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों में जोरदार बारिश की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग ने मौसम को लेकर बड़ी चेतावनी जारी की है। जयपुर मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा के अनुसार, राजस्थान के जयपुर, सीकर, झुंझुनू, अलवर, बांद्रा, कोटा, चुरू, हनुमानगढ़ और बीकानेर जिलों में पिछले 24 घंटों में भारी बारिश हुई है। शनिवार को राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान है। हालांकि, उन्होंने कहा कि 3 जुलाई 2022 से राज्य के कुछ इलाकों में बारिश की गतिविधियां कम होंगी।

मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि आगामी चार से पांच दिनों तक बिहार में व्यापक वर्षा के साथ गरज-चमक या बिजली गिरने की भी संभावना है। देश के मौसम विज्ञानियों का अनुमान है कि आने वाले महीनों में मानसून तेज होगा। मौसम विभाग ने जुलाई के लिए समान रूप से वितरित वर्षा की भी भविष्यवाणी की है।