50 हजार हितग्राहियों को बड़ा तोहफा देंगे सीएम शिवराज, खाते में अंतरित की जाएगी 500 करोड़ की राशि

एक बार फिर से सीएम शिवराज 500 करोड़ रुपए की राशि का वितरण करेंगे।

MP Shivraj Government

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में एक बार फिर से शिवराज सरकार (Shivraj government) हितग्राहियों को बड़ा तोहफा देगी। देश के हर गरीब को अपने मकान मिले। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Awas yojana) के तहत शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में आवास का निर्माण किया जा रहा है। इससे पहले 16 अप्रैल को 11053 हितग्राहियों के खाते में करोड़ों की राशि भेजी गई थी। वहीं अब सीएम शिवराज (CM Shivraj) एक बार फिर से हितग्राहियों को बड़ा तोहफा देंगे। 27 अप्रैल बुधवार को सीएम शिवराज हितग्राहियों को ₹500 करोड़ रुपए की राशि अंतरित करेंगे।

केंद्र सरकार द्वारा समय-समय पर प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी और ग्रामीण के तहत समय-समय पर राशि जारी की जाती है। प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी बीएलसी घटक की आवास निर्माण के लिए जियो टैगिंग के आधार पर राशि का वितरण किया गया था। 27 अप्रैल को एक बार फिर से सीएम शिवराज 500 करोड़ रुपए की राशि का वितरण करेंगे।

इतना ही नहीं 30,000 से अधिक हितग्राहियों को आवाज कर भूमि पूजन किया जाएगा और 21000 हितग्राहियों को गृहप्रवेश भी करवाएंगे इस दौरान सीएम शिवराज हितग्राहियों से वार्तालाप भी करेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 27 अप्रैल बुधवार को प्रातः11 बजे भोपाल के कुशभाऊ ठाकरे अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन केन्द्र में प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के एक लाख से अधिक हितग्राहियों को हितलाभ वितरित करेंगे।

Read More : Gwalior News : 58 करोड़ रुपये स्वीकृत, मंत्री ने PM-CM के लिए कही बड़ी बात

सीएम शिवराज द्वारा सिंगल क्लिक से 50 हजार से अधिक हितग्राहियों को 500 करोड़ रूपये की राशि का अंतरण किया जायेगा। साथ ही 30 हजार से अधिक हितग्राहियों के आवासों का भूमि-पूजन एवं 21 हजार हितग्राहियों के नवीन आवासों का गृह प्रवेश भी करवाया जायेगा। इन आवासों की कुल लागत लगभग 3900 करोड़ रूपये है। मुख्यमंत्री श्री चौहान हितग्राहियों से संवाद भी करेंगे।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह एवं राज्य मंत्री ओ.पी.एस भदौरिया भी शामिल होंगे। प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में भी कार्यक्रम होंगे। जहाँ क्षेत्रीय जन-प्रतिनिधियों सहित नागरिक और लाभार्थी मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण जनसम्पर्क के पोर्टल, दूरदर्शन एवं सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों से होगा।