MP College: UG और PG के छात्रों को बड़ी राहत, अब 31 मई तक भर सकते है परीक्षा फॉर्म

विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार अब बिना किसी विलंब शुल्क के छात्र 31 मई तक परीक्षा फार्म भर (College Exam Form 2021) कर परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं।

college

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के कॉलेज छात्रों(College Student) के लिए राहत भरी खबर है।उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department) ने UG और PG के छात्रों के छात्रों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। इसके तहत यूजी-पीजी छात्र 31 मई तक परीक्षा फॉर्म भर सकते हैं और बिना लेट फीस दिए एग्जाम में भी शामिल हो सकते है।इसकी जानकारी खुद उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने ट्वीट कर दी है।

यह भी पढ़े.. MP College Exam 2021: उच्च शिक्षा विभाग का बड़ा फैसला, ओपन बुक प्रणाली से होगी UG-PG की परीक्षाएं

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव (Higher Education Minister Dr. Mohan Yadav) ने वीडियो जारी कर बताया कि जो स्नातक और स्नातकोत्तर के छात्र अपना परीक्षा फार्म नहीं भर पाये हैं। विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार अब बिना किसी विलंब शुल्क के छात्र 31 मई तक परीक्षा फार्म भर (College Exam Form 2021) कर परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं।इसके साथ ही प्रदेश के सभी विश्वविद्यालय के सभी कुलपति भी समय सीमा में परीक्षा कार्यक्रम को लागू करें।

दरअसल, इस बार स्नातक तथा स्नातकोत्तर की प्रथम, द्वितीय और अंतिम वर्ष परीक्षाएं अब ओपन बुक पद्धति (Open book system) से जून 2021 में आयोजित की जाएगी। जिसमें परीक्षार्थी (MP College Exam 2021) अपने निवास में ही रहकर परीक्षा (Online Exam 2021) देंगे तथा निकट के निर्धारित संग्रहण केंद्र में उत्तर पुस्तिका जमा करेंगे।इतना ही नहीं स्नातक अंतिम वर्ष और स्नातकोत्तर चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाएं जून 2021और परिणाम जुलाई 2021 में घोषित किए जाएंगे।  वहीं स्नातक प्रथम वर्ष एवं द्वितीय वर्ष तथा स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षाएं जुलाई 2021 में आयोजित और परीक्षा परिणाम अगस्त 2021 में घोषित किए जाएंगे।

यह भी पढ़े.. Petrol Price: मध्य प्रदेश में 102 रुपए पार हुआ पेट्र्रोल, जानें अपने शहर के दाम

बता दे कि स्नातक एवं स्नातकोत्तर के लगभग 18 लाख विद्यार्थी इन परीक्षाओं में सम्मिलित होंगे।  स्नातक अंतिम वर्ष के 4.30 लाख एवं स्नातकोत्तर चतुर्थ सेमेस्टर के 1.72 लाख परीक्षार्थी प्रदेश के 8 विश्वविद्यालयों द्वारा आयोजित परीक्षाओं में शामिल होंगे। स्नातक प्रथम वर्ष में 5.33 लाख एवं स्नातक द्वितीय वर्ष में 5.25 लाख, स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर के 1.35 लाख परीक्षार्थी प्रदेश के 8 विश्वविद्यालयों द्वारा आयोजित परीक्षाओं में शामिल होंगे।