इस बड़ी तैयारी में कांग्रेस, एक्शन में Kamalnath, अब इस मुद्दे पर सरकार को लिया आड़े हाथ

दरअसल गैस की बढ़ती कीमतों सहित ओबीसी आरक्षण, पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमत, कोरोना मृतक के पीड़ितों को मुआवजा दिलाने जैसे मुद्दे पर मास्टरस्ट्रोक खेलने की तैयारी में है।

MP By-election

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आगामी चुनाव (upcoming elections) से पहले एक बार फिर से कमलनाथ (kamalnath) के रुख में परिवर्तन साफ नजर आ रहा है। दरअसल बीते दिनों जहां उन्होंने OBC आरक्षण (OBC reservation) का मुद्दा उठाकर सरकार को घेरने की कोशिश की थी। वहीं उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना (Prime Minister’s Housing Scheme) में अनियमितताओं की शिकायत पर शिवराज सरकार को बांधने का काम किया है।

दरअसल ट्वीट (tweet) करते हुए आज पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना में अनियमितता की शिकायत आ रही है। कहीं अपात्र को मकान दे दिए गए हैं तो कहीं पात्रों के निर्माण के लिए राशि की किस्त तक अदा नहीं की गई है।

Read More: सुबह का बोला, शाम को भूला: कोरोना मौत के आंकड़ों पर एक अधिकारी के दो अलग-अलग बयान

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि चौमासा शुरू होने के बावजूद लोगों को घर ना मिलना चिंता का विषय है। मुख्यमंत्री जी को इस विषय में गंभीरता से विचार करना चाहिए। इससे पहले Corona के आंकड़ों को लेकर लगातार कांग्रेस सरकार पर हमलावर रही है। बता दें कि चुनाव की परिस्थिति को देखते हुए इस बार कांग्रेस बयानबाजी छोड़कर विशेष मुद्दों पर सरकार को घेरने की तैयारी में जुटी हुई है। दरअसल गैस की बढ़ती कीमतों सहित ओबीसी आरक्षण, पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमत, कोरोना मृतक के पीड़ितों को मुआवजा दिलाने जैसे मुद्दे पर मास्टरस्ट्रोक खेलने की तैयारी में है।

Read Moreनागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दी मध्यप्रदेश को ये बड़ी सौगात

इससे पहले भी पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सरकार के विरुद्ध संविदा नियुक्ति सहित अन्य कई मांगो पर ध्यान देने की बात कही थी। बीते दिनों प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत आगर मालवा शहर में स्वीकृत आवास पर हितग्राही को भुगतान की गई राशि में अनियमितता की शिकायत की गई थी। जिस पर लोकायुक्त ने कार्रवाई की थी। कई बार विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से पीएम आवास योजना में घोटाले की खबर सामने आती रही है। जिस पर अब शिवराज सरकार द्वारा नकेल कसने की पूरी तैयारी की गई है।