MP School : 1 से 5वीं के छात्रों के लिए बड़ी खबर, 90 हजार स्कूल में लागू हुई नई व्यवस्था, 10 लाख को मिलेगा लाभ

इसके लिए यह प्रोग्राम लागू किया गया है।

mp school

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  प्रदेश (MP) के शासकीय स्कूल (Government MP School) में शिक्षा व्यवस्था (education system) को दुरुस्त करने के लिए नए नियम तय हो गए हैं। दरअसल प्रदेश में अब कक्षा 1 से 5वीं तक के छात्र को नए नियम के तहत पढ़ाई करवाई जाएगी। राज्य शिक्षा केंद्र (school education centers) ने इस मामले में पूरी तैयारी कर ली है। वहीं राज्य शिक्षा केंद्र ने दावा किया कि हमसे ज्यादा इंटेलिजेंट होंगे और उनकी स्मरण शक्ति भी तेजी से बढ़ेगी।

दरअसल प्रदेश के 90 हजार शासकीय प्राइमरी स्कूल में फाउंडेशन लिटरेसी और न्यूमेरेसी प्रोग्राम (Foundation Literacy and Numeracy Program) लागू कर दी गई है। इसके तहत कक्षा एक से पांचवीं तक के 10 लाख छात्रों को इस प्रोग्राम के तहत शिक्षा दी जाएगी। बता दें कि राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा निपुण भारत अभियान के तहत मिशन अंकुर मुहिम शुरू की गई है इस मुहिम का लाभ लाखो छात्रों को मिलेगा इस मुहिम के जरिए मूल रूप से फाऊंडेशनल लिटरेसी एंड न्यूमैरेसी प्रोग्राम लागू की गई है। इस कार्यक्रम को मूल रूप से मिशन अंकुर के तहत जाना जाता है।

Read More : MP News : भू-माफिया के खिलाफ चला मामा का बुलडोजर, 14 करोड़ रु की शासकीय जमीन को अवैध कब्जे से कराई मुक्त

इस मामले पर बोलते हुए राज्य शिक्षा केंद्र के ऊपर मिशन संचालक लोकेश जांगिड़ का कहना है कि इस कार्यक्रम से मध्य प्रदेश के 10 लाख बच्चे ज्यादा इंटेलिजेंट बनेंगे उनके स्मरण शक्ति तेज होगी और चीजों को सीखने में तीव्रता आएगी। इसके लिए पढ़ाने वाले शिक्षकों को ट्रेनिंग दी जा रही है। बता दे कि पहले चरण के ट्रेनिंग प्रोग्राम को शुरू कर दिया गया है। जल्द प्रदेश के सभी 90000 शासकीय प्राथमिक विद्यालय में पढ़ाने वाले शिक्षकों को ट्रेंड किया जाएगा।

लोकेश जांगिड की माने तो हिंदी भाषा और गणित के लिए पूरी तरह से कांसेप्ट तैयार किए जा चुके हैं। जिसके बाद स्कूलों में कक्षा 1 से 5वीं तक के छात्रों को अलग-अलग कार्यक्रम और एक्टिविटी के जरिए कक्षाएं आयोजित की जाएगी। वहीं विद्यार्थी को हिंदी भाषा का ज्ञान सरलता से हो और वह अटक अटक कर पड़ने की वजह धाराप्रवाह हिंदी जैसी भाषा बोलने में सक्षम हो। इसके लिए यह प्रोग्राम लागू किया गया है।