MP School: शिवराज सरकार की नई व्यवस्था, हजारों बच्चों को मिलेगा लाभ

94000 से अधिक विद्यार्थियों के लिए बड़ी खबर, मिलेगा लाभ

school

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्य प्रदेश में MP School के 94000 से अधिक विद्यार्थियों के लिए बड़ी खबर है। दरअसल राज्य शिक्षा केंद्र ने एमपी स्कूल की निशुल्क पुस्तक वितरण व्यवस्था में बदलाव करने का निर्णय किया है। इसके लिए केंद्र ने NIC से सहयोग मांगी है। अब बच्चों को भी तो न होने वाली पुस्तकों की ट्रैकिंग (tracking) की जाएगी।

दरअसल राज्य शिक्षा केंद्र स्कूल के निशुल्क क्वेश्चन व्यवस्था में बदलाव किया है। केंद्र (central) ने एनआईसी (NIC) की मदद से ऑनलाइन ट्रैकिंग सिस्टम तैयार (Online tracking system) किया है जिससे बच्चों को वितरित होने वाली निशुल्क पुस्तक की ट्रैकिंग ऑनलाइन एप (tracking online app) पर की जाएगी।

Read More: MP: Kamalnath ने सीएम शिवराज को लिखा पत्र, 2013 की इस घोषणा को पूरा करने की मांग

बता दे 2021-22 सेशन के लिए लगभग 3 करोड़ 55 लाख से अधिक पुस्तकों के वितरण इस ऐप के माध्यम से किए जाएंगे। इस मामले में राज्य शिक्षा केंद्र के संचालक ने बताया कि मध्यप्रदेश में Jio Tagging तकनीक के साथ ऑनलाइन व्यवस्था करने वाला संभवत देश का पहला राज्य है।

इस व्यवस्था के तहत पारदर्शी और पेपरलेस इस व्यवस्था से जियो टैगिंग और पैकिंग की व्यवस्था की जाएगी। वही स्कूल के प्रिंसिपल अपने स्कूल में ऐप के माध्यम से कक्षावार बच्चों के नाम से पुस्तक का वितरण करेंगे। इस व्यवस्था से प्रदेश के 94000 प्राइमरी और मिडिल स्कूल के बच्चों को लाभ मिलेगा। जिसके लिए लगभग तीन करोड़ 55 लाख से अधिक किताब का वितरण किया जाएगा।