MPPSC : आयोग ने शुरू की तैयारी, 900 से अधिक पदों पर होगी भर्ती, जानें पात्रता और नियम

153 पदों में से 41 अनारक्षित वर्ग के लिए, 41 ओबीसी के लिए, 15 ईडब्ल्यूएस के लिए, 25 अनुसूचित जाति के लिए और 31 अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं।

MPPSC Exam 2022

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एमपीपीएससी के उम्मीदवारों (MPPSC Candidates) के लिए महत्वपूर्ण सूचना है। दरअसल मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा कई पदों पर सीधी भर्ती (Direct Recruitment) की जाएगी। इसके लिए प्रक्रिया (Process) शुरू कर दी गई है। इसके लिए एक तरफ जहां स्त्री रोग विशेषज्ञ के लिए आयोग ने 153 पदों पर विज्ञापन जारी किया है।

वहीं दूसरी तरफ लगभग 900 विशेष डॉक्टरों की भर्ती के लिए एक मांग पत्र प्राप्त हुआ है। इस मामले में MPPSC के ओएसडी आर पंचभाई का कहना है डॉक्टरों की भर्ती के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। आयोग ने 153 स्त्री रोग विशेषज्ञ के लिए भर्ती का विज्ञापन जारी किया है। 153 पदों में से 41 अनारक्षित वर्ग के लिए, 41 ओबीसी के लिए, 15 ईडब्ल्यूएस के लिए, 25 अनुसूचित जाति के लिए और 31 अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं। वहीं 900 शिक्षकों की भर्ती के लिए स्वास्थ्य विभाग के मांग पत्र भी प्राप्त हुए हैं।

Read More : APJ Abdul Kalam : भारत के मिसाइल मैन को उनकी 7वीं पुण्यतिथि पर नमन

इसके लिए उम्मीदवार 1 सितंबर तक आवेदन कर सकते हैं। इसका चयन साक्षात्कार के माध्यम से किया जाएगा। बता दें कि मध्य प्रदेश में 3615 पदों में से 2498 पद रिक्त थे। स्वास्थ्य विभाग के पीजीएमओ की संख्या 12 सौ से अधिक है वह विशेषज्ञ के 2949 पद रिक्त होने के बाद सभी पीजीएमओ को पदोन्नत कर दिया जाए तो भी विशेषज्ञ के पद नहीं भरे जाएंगे। जिसके कारण सीधी भर्ती की तैयारी की गई है।

वहीं 2019-20 के आंकड़ों की माने तो सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में विशेषज्ञ के 1810 पद जबकि ग्रामीण क्षेत्र के पीएचसी के डॉक्टर के 134 पद खाली थे। इसके अलावा एनएचएम में चिकित्सा अधिकारी के 40% से अधिक पद रिक्त है। एनएचएम के तहत मध्यप्रदेश में 2157 पद खाली है

जिसके लिए विशेषज्ञ पद पर 451 डॉक्टरों को बीते दिनों पदोन्नत कर रिक्त सीटों को भरा गया था। वहीं अब रिक्त पदों की भर्ती के लिए एमपीपीएससी ने नोटिफिकेशन जारी किया है। जल्दी ही 904 विशेषज्ञ पदों पर MPPSC द्वारा भर्ती की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। वहीं रिक्त आंकड़े भी कार्यालय पहुंच गए हैं।