MPPSC : प्रोफेसर राजेश लाल मेहरा को मिली बड़ी जिम्मेदारी, संभाला अध्यक्ष पद का कार्यभार

MPPSC : बुधवार को प्रेसिडेंसी एरिया स्थिति ऐसी मुख्यालय पर प्रोफेसर राजेश लाल मेहरा ने पदभार ग्रहण किया।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। MPPSC की राज्य सेवा परीक्षा 2019-20 की परीक्षाओं के नतीजे की मांग बरकरार है। इसके साथ ही नई भर्तियों (New Recruitment) को लेकर भी लगातार सवाल उठ रहे हैं। इसी बीच मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) के अध्यक्ष के रूप में प्रोफेसर राजेश लाल मेहरा ने कार्यभार ग्रहण किया है। दरअसल बुधवार को प्रेसिडेंसी एरिया स्थिति ऐसी मुख्यालय पर प्रोफेसर राजेश लाल मेहरा ने पदभार ग्रहण किया।

बता दें कि इससे पहले मेहरा पीएससी में कार्यवाहक अध्यक्ष के तौर पर पदस्थ थे। प्रोफ़ेसर राजेश लाल मेहरा (prof. Rajesh lal Mehra) PSC में सदस्य थे। 16 नवंबर को कैबिनेट (cabinet) के पूर्व कालीन अध्यक्ष के रूप में उनके नाम का अनुमोदन किया गया था। जिसके बाद उनकी नियुक्ति के आदेश जारी किए गए थे।

Read More : MP Corona: कोरोना की रफ्तार तेज, आज मिले 18 पॉजिटिव, इंदौर-भोपाल में बढ़े केस

इसके साथ ही उम्मीदवारों की तरफ से बड़ा सवाल यह है कि क्या चेयरमैन बदलने से Madhya pradesh public service commission सिस्टम में भी बदलाव देखने को मिलेगा। दरअसल MPPSC के उम्मीदवारों द्वारा राज्य सेवा परीक्षा 2019-20 के परीक्षा परिणाम के लिए MPPSC से लगातार मांग की जा रही है। इसके साथ ही साथ उम्मीदवार कई बार मुख्यमंत्री तक को ज्ञापन सौंप चुके हैं।

हालांकि हाई कोर्ट (High court) में सुनवाई के दौरान सरकार ने 3 सप्ताह के भीतर MPPSC राज्यसेवा परीक्षा के परीक्षा परिणाम घोषित करने की बात कही है। ऐसे में अध्यक्ष पद का बदलाव उम्मीदवारों की उम्मीद सहित MPPSC के लिए कितना हितकर होता है। यह तो वक्त ही बताएगा।