कोरोना पर बोले नरोत्तम – इन राज्यों की स्थिति गंभीर, जिलों में लागू किए गए ये नियम

नरोत्तम मिश्रा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh)  में जहां शिवराज सरकार (shivraj government) द्वारा करोना (corona) को नियंत्रण में किया गया है। वहीं कमलनाथ (kamalnath) द्वारा लगातार प्रदेश में कोरोना संक्रमण सहित अन्य मुद्दों पर सवाल उठाए जा रहे हैं। जिसके जवाब देते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra)  ने कहा कि कमलनाथ और शिवराज की कोई तुलना नहीं की जा सकती है। Corona काल में जनता के बीच से गायब रहने वाले Kamalnath Twitter पर ही दिखाई देते हैं जबकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार जनता की सेवा में लगे हुए हैं। भारतीय जनता पार्टी और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के बीच इसी कार्यशैली की अंतर है।

इन दिनों सख्त मूड में नरोत्तम 

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा इन दिनों सख्त मूड में नजर आ रहे हैं। दरअसल कई बार अपनी सुबह से यह बात साबित कर चुके गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने साफ कहा है कि मध्यप्रदेश में अपराधिक गतिविधियों को बढ़ावा नहीं दिया जाएगा और ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसी बीच भोपाल के कोहेफिजा थाना के 2 पुलिसकर्मी पर हमला की उन्होंने कठोर निंदा की। उन्होंने कहा कि इसके खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इस मामले में अभी तक तीन आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। बाकी 2 पकड़े जाएंगे। जानकारी देते हुए नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि आज भोपाल में कॉन्स्टेबल को चाकू से घायल किया गया है। मिश्रा ने कहा कि अपराधी कोई भी हो, वह बख्शा नहीं जाएगा।

बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों की जांच के बाद ही एंट्री- नरोत्तम मिश्रा

वहीं महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण की दर पर बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि महाराष्ट्र और दक्षिणी राज्य में लगातार बाकी राज्यों से ज्यादा केस नजर आ रहे हैं। जिसको देखते हुए वहां से बसों का आवागमन बंद किया गया है। इसके साथ ही प्रदेश के बॉर्डर वाली जिलों में बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों की जांच के बाद ही एंट्री दिए जाने की हिदायत दी गई हैं।

मिलावटखोरों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा – नरोत्तम मिश्रा 

वहीं मध्यप्रदेश में मिलावट के खिलाफ कार्रवाई को लेकर शिवराज सरकार प्रतिबद्ध हैं। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि खाद्य पदार्थों में मिलावट की जान से खिलवाड़ करने वाले मिलावटखोरों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा शिवराज सरकार की नीति मिलावटखोरों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की है। उन्होंने मिलावट पर कसावट अभियान चलाकर कार्रवाई करने की जानकारी दी है। नरोत्तम मिश्र ने कहा कि मिलावट पर कसावट हमारी पार्टी का अभियान है जो लगातार जारी रहेंगा। मिलावट सिर्फ दूध में नहीं अपितु किसी भी क्षेत्र में मिलावट पाया जाएगा तो उसके खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने वाले को कानून छोड़ेगा नहीं।

वैक्सीनेशन के मामले में भी मध्यप्रदेश में रिकॉर्ड कायम- गृह मंत्री 

वहीं प्रदेश में Corona की स्थिति पर बोलते हुए गृह मंत्री मिश्रा ने कहा कि मध्यप्रदेश में corona की स्थिति नियंत्रण में है। 24 घंटे में मात्र 10 के सामने आए हैं जबकि 12 लोग स्वस्थ होकर अपने घर वापस लौटे हैं। प्रदेश में अभी कुल एक्टिव के 163 हैं जबकि रिकवरी रेट 8.60 हो गया है। प्रदेश में कल 73 हजार से ज्यादा टेस्ट किए गए हैं। जबकि वैक्सीनेशन के मामले में भी मध्यप्रदेश में रिकॉर्ड कायम किया है टेस्टिंग के मामले में मध्य प्रदेश की स्थिति अन्य राज्यों से कहीं बेहतर है हम कोरोना को लेकर लगातार प्रयासरत हैं। सरकार चाहती है कि संक्रमण की स्थिति किसी भी रूप में फैले इसके लिए सरकार कड़े कदम उठा रही है।