जुड़वा बहनों ने Online दुकान से जुटाए पैसे, बाढ़ प्रभावित महिलाओं को बांटे Sanitary Pads

भिण्ड, गणेश भारद्वाज। जागरूकता संग सकारात्मकता की अद्भुत पहेली भिंड (Bhind) जिले में देखने को मिली। दरअसल मध्यप्रदेश में आई बाढ़ से ग्रसित भिंड जिले में दो लड़कियों के सकारात्मक कार्य चर्चा का विषय बने हुए हैं। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह की दो जुड़वा बेटियों ने अनूठी पहल करते हुए बाढ़ पीड़ित महिलाओं के लिए अपने द्वारा कमाए हुए रुपयों से सेनेटरी पैड (Sanitary Pads) बांटने का काम किया है। दोनों बहनों ने इस काम के लिए अपने बिजनेस के प्रॉफिट के बीस हजार खर्च किए हैं। अब यह दोनों बहनें गांव-गांव जाकर बाढ़ पीड़ित महिलाओं को सेनेटरी पैड बांटने का काम कर रही है।

दरअसल भिंड एसपी मनोज सिंह की दो जुड़वा बेटियां नव्या और भव्या हमेशा ही अपने पिता की तरह समाज सेवा से जुड़े कुछ ना कुछ कार्य करती रहती हैं। इस बार इन दोनों बेटियों ने बाढ़ पीड़ित महिलाओं के परेशानी को समझते हुए उनके लिए अपनी द्वारा कमाए हुए रुपयों से सेनेटरी पैड की व्यवस्था की है और अब यह दोनों बहने बाढ़ पीड़ित महिलाओं के बीच पहुचकर उनको सेनेटरी पैड (Sanitary Pads) वितरित कर रही है।

जुड़वा बहनों ने Online दुकान से जुटाए पैसे, बाढ़ प्रभावित महिलाओं को बांटे Sanitary Pads

Read More: Gold Silver Rate: सोने की कीमत में बदलाव नहीं, चांदी सस्ती, जानिए आज का ताजा भाव

गत 3 वर्ष से यह दोनों जुड़वां बहने ऑनलाइन शॉपिंग एप (Online Shopping App) चलाती है। रीडिंग मैजिक नाम के इस ऐप पर नोटपैड बुक्स और स्टीकर समेत अन्य वस्तुएं इन दोनों बहनों के द्वारा ऑनलाइन सेल की जाती हैं और इसी से जो इन्हें प्रॉफिट होता है उसे किसी न किसी समाज सेवा के कार्य में लगाया जाता है। इस बार जब दोनों बहनों ने भिंड जिले में आई बाढ़ और उसके बाद होने वाली परेशानी को देखा तो उन्होंने अपने स्तर पर मदद करने का सोचा। इसमें दोनों बहनों का मार्गदर्शन उनके पिता एसपी मनोज सिंह और उनकी मां रुचि सिंह ने किया, क्योंकि खुद एसपी मनोज सिंह और उनकी पत्नी समय-समय पर समाज सेवा के कार्य करते रहते हैं।

अपने माता-पिता को समाज सेवा के कार्य करते देखते हुए बेटियां भी प्रेरित हुई और बेटियां भी इसी राह पर आगे बढ़ रही हैं। दोनों बहनों ने पिछले दिनों ऑनलाइन सेल से हुई कमाई के बीस हजार के सेनेटरी पैड खरीदे हैं और अब दोनों बहनें बाढ़ पीड़ित महिलाओं के बीच पहुँचकर सेनेटरी पैड वितरित कर रही है। दोनों बहनों ने बताया कि चाहे भूकंप आए बाढ़ आए या और कोई परेशानी हो लेकिन पीरियड कभी नहीं रुकते हैं इसलिए इस परेशानी को कम करने के लिए हमने यह सोचा है।

जुड़वा बहनों ने Online दुकान से जुटाए पैसे, बाढ़ प्रभावित महिलाओं को बांटे Sanitary Pads

अब इसी उद्देश्य के चलते बाढ़ पीड़ित महिलाओं के लिए सेनेटरी पैड खरीदे हैं और अब यह सेनेटरी पैड जरूरतमंद महिला को वितरित किए जा रहे है।इसकी शुरुआत उन्होंने कलेक्टर सतीश कुमार को पैड देकर की। दोनो बेटियों के इस अनूठी पहल की तारीफ कलेक्टर भी कर रहे है उनका कहना है दोनो जुड़वा बहनों की तरह अन्य संस्था समाजसेवी लोगो को सामने आकर पीड़ितों की मदद करना चाहिए। इतना ही नही सेनेटरी पैड बनाने बाले संचालक अनुराग पेड़वाला की भूमिका भी अहम मानी जाती है। उन्होंने 26 रुपये का प्रति पैड की कीमत को मात्र 10 रुपये में दिया। उनका कहना है कि बाढ़ पीड़ितों के नाम से जो संस्था या समाज सेवी पैड खरीदेगा तो उसे डाउन पैमेंट में भुगतान करना होगा।