कमलनाथ ने बताया- MP में कैसे गिराई गई कांग्रेस सरकार

MP में कांग्रेस सरकार गिराने पर कही बड़ी बात

कमलनाथ उपचुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में आगामी चुनाव (upcoming election) को लेकर चर्चाएं तेज हो गई है। इसी बीच पार्टी हाईकमान (party high command) द्वारा मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ (kamalnath) को दिल्ली बुलाई जाने की खबर बीते दिनों चर्चा में थी। इस दौरान कहा जा रहा था कि सोनिया गांधी जल्द कमलनाथ को राष्ट्रीय पार्टी में कोई कमान सौंप सकती है। हालांकि इस मामले में कमलनाथ का बड़ा बयान सामने आया है।

आज मीडिया से चर्चा के दौरान कमलनाथ ने कि वह मध्य प्रदेश को छोड़कर कहीं नहीं जा रहे हैं ,वह प्रदेश में ही रहेंगे और प्रदेश राजनीति में रहते हुए मध्य प्रदेश वासियों की सेवा करेंगे। दिल्ली दौरे को लेकर कमलनाथ से सवाल पूछे गए तो उन्होंने कहा कि वह कई बार कह चुके हैं कि वह मध्यप्रदेश में ही रहेंगे और एक बार फिर उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि वह मध्य प्रदेश को छोड़कर कहीं नहीं जाने वाले हैं।

Read More: MP News: किसानों के लिए इस बड़ी व्यवस्था की तैयारी में शिवराज सरकार, मिलेगा लाभ

MP में कांग्रेस सरकार गिराने पर कही बड़ी बात

इसी बीच पेगासस द्वारा कई राजनेताओं की खुफिया जानकारी की खबर वायरल होने के बाद कमलनाथ का बड़ा बयान सामने आया है दरअसल कमलनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी जुलाई 2017 में इस दौरे पर थे इस दौरान जासूसी शुरू की गई थी। कमलनाथ ने दावा किया है कि मोदी सरकार द्वारा गैरकानूनी ढंग से जासूसी कर कर्नाटक में कुमारस्वामी की सरकार गिराने का काम किया गया है। वहीं उन्होंने उम्मीद जताई कि मध्यप्रदेश में भी सरकार गिराने के लिए जासूसी किया गया होगा।

इतना ही नहीं कमलनाथ ने कहा कि झारखंड में विधायकों को खरीदने का काम मोदी सरकार कर रही है। इतना ही नहीं कमलनाथ ने मामले की गंभीरता को देखते हुए कहा कि फ्रांस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है लेकिन भारत में इसकी जांच क्यों नहीं हो रही है। कमलनाथ ने इस मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जज से कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सरकार विपक्षी नेताओं को भी इस मामले में विश्वास में ले।

आगामी उपचुनाव पर बड़ा बयान

वहीं आगामी उपचुनाव (upcoming by-election) को देखते हुए प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा इस बार उपचुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशियों का चयन सर्वे (survey) के आधार पर किया जाएगा। इसके लिए सर्वे किया जा चुका है। जल्द इसके परिणाम आने वाले हैं इसके आधार पर कांग्रेस पार्टी उपचुनाव के लिए प्रत्याशियों की सूची तैयार करेगी। इतना यह नहीं कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में दमोह चुनाव जीतने के बाद कांग्रेस के सभी कार्यकर्ताओं के अंदर काफी उत्साह है और हम उपचुनाव में जीत हासिल करेंगे।

शिवराज सरकार पर निशाना

शिवराज सरकार पर निशाना साधते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) को कांग्रेस की नहीं बल्कि अपनी चिंता करनी चाहिए। उन्होंने कहा की शिवराज सरकार ने ई टेंडर (E-Tender)  घोटाले की जांच EOW को दी थी। लेकिन अभी ई टेंडर घोटाले को दबा दिया गया है।