मप्र में एक्टिव केस 85 हजार के पार, सीएम शिवराज सिंह बोले-संक्रमण की चेन तोड़ना जरुरी

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं आम जनता को कहना चाहता हूं कि यदि हम समय रहते #COVID19 का इलाज चालू कर लें तो इससे जीता जा सकता है।

सीएम शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आज शुक्रवार को योग से निरोग कार्यक्रम में सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि कोरोना (Coronavirus) से जीतना है, तो संक्रमण की चेन तोड़नी होगी। इसके लिए घर में रहना होगा। #MPJantaCurfew को अपने मोहल्ले, गांव, क्षेत्र में सफल बनाना होगा। घर में रहते हुए योग करें और अपनी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ायें। इससे इस लड़ाई को जीतने में मदद मिलेगी।मप्र में अभी 85 हजार लोग कोरोना से संक्रमित हैं। इन्हें हमें घर पर ही ठीक करना है, ताकि संक्रमण न फैले।

यह भी पढ़े.. कोरोना संकटकाल के बीच सीएम शिवराज सिंह की बड़ी घोषणा- इनको 1000 रुपए देगी सरकार

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि इलाज की समुचित व्यवस्था के साथ-साथ प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के लिए योग, प्राणायाम के साथ काढ़े का भी वितरण की व्यवस्था की जा रही है।बीमारी न हो इसके लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई जाए, इसके लिए आज हमने योग से निरोग कार्यक्रम प्रारम्भ किया है। मैं वर्षों से रोज प्राणायाम कर रहा हूँ। मैं यदि आज इतना काम कर पा रहा हूँ तो उसका कारण है योग। अभी मध्यप्रदेश में #MPJantaCurfew लगा है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं आम जनता को कहना चाहता हूं कि यदि हम समय रहते #COVID19 का इलाज चालू कर लें तो इससे जीता जा सकता है। योग से निरोग कार्यक्रम से लोग जल्दी ठीक होंगे। योग का असर साधक के शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य पर पड़ेगा।योग से निरोग कार्यक्रम के अंतर्गत हम एक नई दिशा पूरी दुनिया को दिखाएंगे।

यह भी पढ़े.. चोर ने लौटाई वैक्सीन, बोला- सॉरी, पता नहीं था कोरोना की दवाई है, लेटर वायरल

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामया।सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चित् दुःख भाग् भवेत्।। लड़ाई लंबी है और कठिन भी लेकिन हमें यह लड़ाई जीतना है। आइये, मेरे सभी योग प्रशिक्षक भाई-बहन इस कार्यक्रम में अपना पंजीयन कराएँ और मानवता की सेवा में योगदान दें।यह कार्यक्रम बहुत महत्वपूर्ण है। हमें संक्रमितों को भी ठीक करना है और बाकी लोगों में संक्रमण न फैले उसकी चिंता भी करना है।

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि  प्रदेश के कोविड मरीजों में से लगभग 72 प्रतिशत मरीज होम आइसोलेशन में हैं। इन व्यक्तियों को फोन कॉल, वीडियो कॉल के माध्यम से योग प्रशिक्षक प्रतिदिन मरीज की सुविधानुसार एक निश्चित समय पर योग, ध्यान, आसन, प्राणायाम आदि के संबंध में मार्गदर्शन देंगे और उनका अभ्यास भी कराएंगे।होम आइसोलेशन और कोविड केयर सेंटर में रह रहे व्यक्तियों को यदि ठीक कर लिया गया तो यह प्रदेश के लिए बड़ी उपलब्धि होगी। इससे अस्पतालों पर पड़ने वाले बोझ से बचा जा सकेगा।

सीएम शिवराज सिंह चौहान कहा कि प्रत्येक प्रशिक्षक होम आइसोलेशन में रह रहे 10 मरीजों से सम्पर्क करेगा और उन्हें 3 दिन का योग प्रशिक्षण देगा। इन गतिविधियों का समन्वय डिस्ट्रिक्ट कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर से किया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग (School Education Department) तथा आयुष विभाग द्वारा समन्वित रूप से चलाए जा रहे इस कार्यक्रम में एक प्रशिक्षण मॉड्यूल विकसित किया गया है।