एंदल सिंह कंसाना के बेटे पर इनाम घोषित, कांग्रेस बोली-शिवराज जी, गाड़ोगे या घर की बात

इस पर एमपी कांग्रेस  (MP Congress) और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी (Congress MLA Jitu Patwari) ने तंज कसा है और सरकार से जवाब मांगा है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। शिवराज सरकार (Shivraj government) में मंत्री रहे एंदल सिंह कंसाना (Andal Singh Kansana) के बेटे बंकू कंसाना (Bunku Kansana) की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। पुलिस द्वारा बेटे बंकू कंषाना समेत आधा दर्जन आरोपियों पर 2-2 हजार रुपए का इनाम घोषित और गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। इस पर एमपी कांग्रेस  (MP Congress) और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी (Congress MLA Jitu Patwari) ने तंज कसा है और सरकार से जवाब मांगा है।

यह भी पढ़े.. MP: अबतक 21 लाख से ज्यादा किसानों ने कराया गेंहू खरीदी के लिए पंजीयन, यह है लास्ट डेट

दरअसल, एमपी कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) के पूर्व मंत्री और ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) समर्थक बीजेपी नेता (BJP Leader) एंदल सिंह कंसाना के बेटे बंकू कंसाना को माफिया (Mafia) घोषित करते हुये 2000 का इनाम और गिरफ़्तारी वारंट (Arrest Warrant)  जारी किया गया है। शिवराज जी, कुनबा बढ़ाने के चक्कर में डाकुओं से रिश्ता कर बैठे…? अब इन्हें गाड़ोगे या ये तो “घर की बात” है..?

वही पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी (Former Minister Jeetu Patwari) ने भी ट्वीट (Tweet) शेयर करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से जवाब मांगा है। जीतू ने ट्वीट कर लिखा है कि शिवराज सिंह चौहान जी जवाब दो प्रदेश की जनता को !इतना ही नहीं कांग्रेस ने वारंट और इनाम की कॉपी भी अटैच की है।

यह भी पढ़े… Suspended: काम में लापरवाही बरतना सहायक यंत्री को पड़ा महंगा, निलंबित

कांग्रेस के सवाल उठाने पर कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग (Cabinet Minister Vishwas Sarang) ने पलटवार करते हुए कहा है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार( Rajasthan Government) है। सरकार के दबाव में धौलपुर SP ने इनाम का ऐलान किया है। राजस्थान में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के दौरे हैं। इसलिए गिरफ्तरी वारंट जारी हुआ है। BJP का कोई भी नेता, कार्यकर्ता अवैध खनन में शामिल नहीं है।

इस संबंध में धौलपुर एसपी केशर सिंह ने चंबल आईजी(Chambal IG) और मुरैना पुलिस अधीक्षक (Morena SP) को भी पत्र लिखा है जिसमें पूर्व मंत्री एंदल सिंह कंसाना के बेटे बंकू और रिश्तेदार उम्मेदा के खिलाफ कार्रवाई का जिक्र किया है और दूसरी बार गिरफ्तारी वारंट की जानकारी दी है।

ये है पूरा मामला

गौरतलब है कि यह मामला 8 अक्टूबर 2019 का है। जब राजस्थान में धौलपुर के कोतवाली थाने में तैनात दो कॉन्स्टेबल विजयपाल सिंह और हरिओम यादव चंबल पुल की ओर मध्य प्रदेश की सीमा (Border of Madhya Pradesh) तक गश्त कर रहे थे, इसी बीच मुरैना (Morena) की ओर से कार और बाइक सवार दर्जन भर लोगों ने पुलिसकर्मियों की बाइक रुकवाई और बेल्ट और डंडों से जमकर पिटाई कर दी।  इसके बाद पुलिसकर्मियों (Rajasthan Police) को छोड़कर सभी लोग उनकी बाइक लेकर फरार हो गए।इस घटना में ऐदल सिंह कंसाना के पुत्र बंकू कंसाना भी शामिल था।

इसको लेकर पुलिसकर्मियों ने धोलपुर की कोतवाली थाने में 15 मुल्जिमों के खिलाफ मुकदमा नंबर 405/19 में आईपीसी की धारा 147,148,149,332,353,307,395,397 में मामला भी दर्ज करवाया था, जिसके बाद धौलपुर पुलिस ने 9 मुल्जिमों को गिरफ्तार कर लिया था, जबकि बंकू कंसाना सहित 6 मुल्जिम फरार चल रहे थे। इसी के चलते मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट धौलपुर ने गिरफ्तारी वारंट (arrest warrant) जारी किया था । धौलपुर एसपी केसर सिंह शेखावत ((SP Kesar Singh Shekhawat) ने 2000 हजार का इनाम घोषित किया है।

 

 

एंदल सिंह कंसाना एंदल सिंह कंसाना