किसानों के नाम पर 1 हजार करोड़ का घोटाला! मंत्री बोले-किसी को नहीं बख्शेंगे

-A-thousand-crore-scam-in-the-name-of-farmers-in-madhya-pradesh-

भोपाल|  कर्जमाफी प्रक्रिया में सामने आये एक के बाद एक गड़बड़झाले ने बड़े घोटाले का खुलासा कर दिया है| किसानों के लोन के नाम पर करीब एक हजार करोड़ की बंदरबांट की गई है|  मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इसकी आशंका जाहिर की थी| जिसके बाद सोमवार को कृषिमंत्री ने कहा है किसानों कर्ज़ के नाम पर एक हज़ार करोड़ के घोटाले की सूचना आ रही है घोटाले करने वालों को छोड़ेंगे नहीं| 

कृषि मंत्री सचिन यादव ने मीडिया से चर्चा में कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ का धन्यवाद देना चाहता हूँ कि कर्जमाफी की प्रक्रिया को पारदर्शिता के साथ शुरू कराया, जिससे किसानों को पता चल सका है कि पिछले 15 सालों में किसानों के नाम पर यह गौरखधंधा भाजपा के लोगों ओर अधिकारियों की मिलीभगत से किया जा रहा था| यह पूरा घोटाला, गड़बड़ियां कर्जमाफी की प्रक्रिया के कारण ही सामने आई है| अभी तक लगभग एक हजार करोड़ रुपए के घोटाले की सूचना है| धीरे धीरे इसकी और परतें खुलेंगी, और घोटाले भी सामने आएंगे| किसानों के नाम पर धोखाधड़ी करने वालों को सरकार बख्शेगी नहीं| 

इससे पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार को मीडिया से चर्चा में कहा था कि बड़ा घोटाला सामने आ रहा है, जो हजार करोड़ का भी हो सकता है।उन्होंने कहा कि यह घोटाला पिछली सरकार के कार्यकाल में भाजपा के नेता और बैंक अफसरों ने मिलकर किया। इसकी जांच कराएंगे। जीरो फीसदी के नाम पर कर्ज देने का दुरुपयोग हुआ।  किसानों ने लोन नहीं लिया और उनके नाम पर लोन बांट दिया।