मप्र में एक्टिव केस 92 हजार के पार, सीएम शिवराज सिंह बोले-युद्ध स्तर पर करें काम

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से फोन पर चर्चा की और उन्हें मध्यप्रदेश में #COVID19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए किये जा रहे प्रयासों से अवगत कराया।

सीएम शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र (MP) में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 90 हजार के पार पहुंच गया है। यही कारण है कि एक दर्जन से ज्यादा जिलों में 30 अप्रैल को समाप्त हो रहा कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) बढ़ाया गया है। वही सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan)  ने बैठक में अधिकारियों से कहा कि हमारे लिए एक-एक घंटा महत्वपूर्ण है। लोगों की जिंदगी बचाने की दिशा में आप लोग काम कर रहे हैं। एक-एक क्षण का उपयोग करते हुए अस्पताल निर्माण का काम युद्ध स्तर पर पूरा करें।

यह भी पढ़े.. नेताओं पर कोरोना का कहर जारी, दो और बीजेपी विधायकों की रिपोर्ट पॉजिटिव

दरअसल, सीएम शिवराज सिंह चौहान आज सोमवार को निज निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस से निर्माण कार्य की समीक्षा कर रहे थे ।यहां उन्होंने @DRDO_India के सहयोग से बीना में बन रहे 1,000 बिस्तर के अस्थायी कोविड अस्पताल के कार्य की DRDO, शासन और सागर प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ भी बैठक में समीक्षा की ।उन्होंने निर्माण एवं संचालन कार्य से जुड़े विभिन्न बिन्दुओं पर सीधे संबंधित क्रियान्वयन एजेंसी और अधिकारी से संवाद कर कार्य की प्रगति का विवरण प्राप्त किया।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अस्पताल प्रत्येक मौसम के अनुरूप बनाया जा रहा है जिसमें बिजली व पानी की निरंतर सप्लाई व्यवस्था रहेगी। अस्पताल निर्माण की व्यवस्थाएं ऑल वैदर प्रूफ होनी चाहिए, जो आंधी, तूफान और बरसात से भी प्रभावित न हों। अस्पताल के निर्माण में तकनीक पर DRDO के अधिकारी अपना प्रस्तुतिकरण दे रहे हैं। मरीजों के भोजन, पानी, चाय, काढ़ा इत्यादि की व्यवस्था शासन के साथ अक्षय पात्र फाउंडेशन के सहयोग से रहेगा।

यह भी पढ़े.. बहुप्रतिष्ठित ऑस्कर अवॉर्ड्स की घोषणा, यहां देखिए विनर लिस्ट

सीएम शिवराज सिंह को कहा कि अस्पताल की विद्युत आपूर्ति के लिए विद्युत सब स्टेशन का निर्माण कार्य तीव्र गति से प्रगतिरत है। विद्युत आपूर्ति के बैकअप के रूप में रिफानरी की विद्युत व्यवस्था को सपोर्ट सिस्टम बनाया गया है। रिफानरी के बेतवा जलस्रोत से ही पेयजल आपूर्ति की व्यवस्था की जा रही है। जल स्रोत में पर्याप्त जल का संचयन है। कनेक्टिविटी के लिए करीब डेढ़ किलोमीटर की सड़क का निर्माण कार्य भी शुरु हो गया है।

सीएम शिवराज सिंह ने प्लांट से रोगी तक ऑक्सीजन वितरण के बिन्दु की भी समीक्षा की। बताया गया कि प्लांट से ऑक्सीजन पाईप लाइन द्वारा चिकित्सालय तक जाएगी। पाईप लाइन निर्माण की कार्यवाही भी जारी हो गई है। बीना ओमान रिफानरी के प्रबंध संचालक भंडारी ने बताया कि प्लांट में 90 टन क्षमता के दो ऑक्सीजन प्लांट उपलब्ध हैं। एक प्लांट का ट्रायल रन विगत 20 अप्रैल से किया जा रहा है। दूसरे का ट्रायल रन आज से शुरु हो गया है

सीएम शिवराज की पीएम मोदी से चर्चा

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि #COVID19 के विरुद्ध प्रदेश पूरी ताकत से लड़ रहा है। प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों के साथ ग्राह नहलाई, बरखेड़ा में फीवर सर्वे हो रहा है, तो पाड़लिया ग्राम पंचायत सहित अनेक स्थानों पर स्वत:स्फूर्त भावना से #MPJantaCurfew लगाया गया है। ऐसे दृढ़ प्रयासों से ही कोरोना से मुक्ति मिलेगी।बुधनी की विभिन्न ग्राम पंचायतों और जनसहयोग से 5 Oxygen कंसंट्रेटर लगाये गये हैं। ऐसे छोटे प्रयासों से बड़े परिवर्तन होंगे। अमूल्य जीवन की रक्षा संभव होगी।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से फोन पर चर्चा की और उन्हें मध्यप्रदेश में #COVID19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए किये जा रहे प्रयासों से अवगत कराया।उनके सुझाव पर अमल करते हुए हमने माइक्रो कंटेनमेंट ज़ोन बनाकर इसका सफलतापूर्वक प्रयोग किया है;इसके अच्छे परिणाम भी मिल रहे हैं। मोदी जी की प्रेरणा से मध्यप्रदेश की जनता ने गांव-गांव में स्वत:स्फूर्त भावना से जो #MPJantaCurfew लगाया है, इस अभिनव जनभावना एवं प्रयास के साथ माइक्रो कंटेनमेंट ज़ोन के सफल प्रयोग की उन्होंने प्रशंसा की।