पार्टी से निलंबन के बाद रामबाई की विधायकी को लेकर शुरू हुई चर्चा

भोपाल। नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने पर पथरिया से बसपा विधायक रामबाई को बसपा प्रमुख मायावती ने पार्टी से निलंबित कर दिया है,  पार्टी के किसी भी कार्यक्रम में उनके शामिल होने पर भी रोक लगा दी गई। पार्टी से निलंबन की इस कार्रवाई के बाद भाजपा रामबाई के समर्थन में आ गई है और बसपा को घेर रही है। वहीं इस घटनाक्रम के बाद प्रदेश की सियासत गरमा गई है। सियासी गलियारों में अब रामबाई की विधानसभा सदस्यता को लेकर चर्चा शुरू हो गई है।

पार्टी से निलंबित किये जाने के बाद क्या विधायक रामबाई की सदस्यता पर खतरा मंडरा रहा है, इसको लेकर चर्चा तेज है। वहीं जानकारों का कहना है कि फिलहाल रामबाई की सदस्यता पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। वे असंबन्ध सदस्य कहलाएंगी। बताया जा रहा है यह सदन का बाहर का मामला है और सदन के भीतर उन्होंने पार्टी के व्हिप का उलंघन नहीं किया है इसलिए उनकी विधायकी पर कोई खतरा नहीं है।

निलंबन की कार्रवाई के बाद रामबाई के कांग्रेस में जाने की भी चर्चा शुर हो गई है। वहीं भाजपा भी खुलकर उनके समर्थन में है। बताया जा रहा है कि रामबाई यदि कोई अन्य राजनीतिक दल जॉइन करती हैं तो उनकी विधायकी खतरे में आ सकती है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here