उज्जैन।अर्पण कुमार।
जानसापुरा के एक ही परिवार में छठा व्यक्ति संक्रमित पाया गया है। राबिया बी के 65 वर्षीय पति की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आयी है। उन्हें गुरुवार को ही माधव नगर हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड से आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में शिफ़्ट कर दिया गया है। उन्हें 2 दिन पहले बुखार आया था। इस परिवार में पहले मरीज के रूप में राबिया बी की पहचान हुई थी, जिसकी मौत हो गयी है। इसके बाद परिवार में उनके बेटे, 2 पौते और एक पोती भी कोरोना पॉजिटिव आ चुके है।

वहीं कलेक्टर शशांक मिश्र ने लापरवाही के चलते सिविल सर्जन व माधवनगर प्रभारी को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है।कमिश्नर ने ड्यूटी न करने एवं मुख्यालय से अनुपस्थित रहने पर दो अधिकारियों को किया निलम्बित तथा पांच को कारण बताओ नोटिस जारी किया।

​कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए उज्जैन जिले एवं उज्जैन संभाग के सभी जिलों में अधिकारियों की विभिन्न व्यवस्थाओं एवं गतिविधियों में ड्यूटी लगाई गई है। उज्जैन संभाग कमिश्नर आनन्द कुमार शर्मा के निर्देश पर उज्जैन एवं अन्य जिलों में कोरोना वायरस के दौरान विभिन्न अधिकारियों को व्यवस्था सुचारू रखने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी, लेकिन सौंपी गई ड्यूटी पूरी न करने, आदेश की अवहेलना करने, कर्त्तव्य पर अनुपस्थित रहने एवं बिना सक्षम अनुमति के जिला मुख्यालय से अनुपस्थित रहने पर कमिश्नर ने दो अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है, वहीं पांच अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

​कमिश्नर शर्मा ने शासकीय कर्त्तव्य पालन न करने एवं बिना सक्षम अनुमति के मुख्यालय से अनुपस्थित रहने पर नीमच कलेक्टर के प्रतिवेदन के आधार पर रतनगढ़ के परियोजना अधिकारी बाल विकास मनोहरलाल घोघलिया को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है। इसी क्रम में कलेक्टर मंदसौर द्वारा भेजे गये प्रतिवेदन के आधार पर मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगर परिषद मल्हारगढ़ शैलेन्द्र अवस्थी को भी तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है। उल्लेखनीय है कि उक्त दोनों अधिकारियों द्वारा शासकीय कार्य में घोर लापरवाही बरती गई थी।

​कमिश्नर श्री शर्मा ने बिना सक्षम अनुमति के जिला मुख्यालय से बाहर रहने पर अधीक्षण यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राजीव खुराना, क्षेत्रीय उप संचालक स्थानीय निधि सम्परीक्षा दीपक परिहार, संयुक्त संचालक पशुपालन डॉ.एनके बामनिया, कार्यपालन यंत्री पीआईयू शाजापुर राजेश रायकवार तथा ईई आरईएस शाजापुर प्रवेश सोनी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। जारी नोटिस में कहा गया है कि वे अपना जवाब तीन दिवस के भीतर देना सुनिश्चित करें। जवाब संतोषप्रद न होने पर नियमानुसार कठोर कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।