Bhopal News: कोरोना ने बढ़ाई टेंशन, भोपाल कलेक्टर ने अधिकारियों को दिए यह निर्देश

वही उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए है कि जिनका टीकाकरण हो रहा है, उन्हें प्रमाण-पत्र के साथ-साथ एक मार्गदर्शी कार्ड भी उपलब्ध कराया जाए।

भोपाल कलेक्टर

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर (Indore0 के बाद मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में लगातार बढ़ते कोरोना (Corona) के आंकड़ों ने प्रशासन (Administration)की टेंशन बढ़ा दी है। 24 घंटे में 104 कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) के सामने आने के बाद भोपाल कलेक्टर (Bhopal Collector)  ने गंभीरता से कदम उठाया शुरु कर दिए है।भोपाल कलेक्टर ने भोपाल में मास्क लगाने का पालन कराने के लिए सख्ती बरतने के निर्देश सभी अधीनस्थ अधिकारियों और नगर निगम, भोपाल को दिए हैं।

यह भी पढ़े..Bhopal News : स्कूल फीस को लेकर भोपाल कलेक्टर ने जारी किए ये निर्देश

भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया (Bhopal Collector Avinash Lavania) ने दुकानदारों से सोशल डिस्टेंसिंग(Social Distancing) सुनिश्चित करने, मास्क (Mask) लगाने और अन्य सावधानियाँ बरतने की अपील की। उन्होंने कहा कि दुकानदार दुकानों और बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने को कहा है, जो दुकानदार बिना मास्क के दुकान पर बैठेंगे या बिना मास्क लगाए व्यक्तियों को सामान देंगे उन पर कार्यवाही की जाएगी। साथ ही सामान्य तौर पर रोको-टोको के लिए भी भोपाल भी जारी है।

भोपाल कलेक्टर ने साफ कहा है कि भोपाल में आने से पहले महाराष्ट्र (Maharashtra)  से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना निगेटिव की रिपोर्ट (Corona Report Negative) लाना अनिवार्य होगा। इसकी जवाबदारी बस ऑपरेटरों (Bus operators) की होगी। बस ऑपरेटर रिपोर्ट के आधार पर ही यात्रियों को बस में प्रवेश दें। जिले की सीमाओं पर भी पुख्ता चैकिंग की व्यवस्था की जाए।वही भीड़ के चलते 90 हुक्का लाउंज (hukka launge) पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

यह भी पढ़े.. MP College : छात्रों के लिए खुशखबरी, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने किया बड़ा ऐलान

भोपाल कलेक्टर ने कहा है कि सभी स्कूल (School)-कॉलेज(College) के साथ शासकीय तथा गैर-शासकीय शैक्षणिक संस्थाओं (Government and non-government educational institutions) में सभी लोग सैनिटाइजर(Sanitizer) का उपयोग करें, मास्क का उपयोग अनिवार्य किया जाए। इसके लिए जागरूकता अभियान भी चलाएँ। जिले में सभी टीकाकरण केन्द्रों पर बुजुर्गों सहित सभी व्यक्तियों के बैठने की व्यवस्था, शेड, पेयजल, व्हील-चेयर और टीकाकरण (Vaccination) के बाद ऑब्जर्वेशन के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जाये।

वही उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए है कि जिनका टीकाकरण हो रहा है, उन्हें प्रमाण-पत्र के साथ-साथ एक मार्गदर्शी कार्ड भी उपलब्ध कराया जाए, जिसमें अगले टीकाकरण की तिथि, सामान्य जानकारियाँ और आवश्यक सावधानियों के संबंध में उल्लेख हो।इंदौर जिले में 6 मरीज कोविड पॉजिटिव केस (Uk strain) के मिले है। इसके लिए विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। कोरोना के जैसे किसी भी प्रकार के लक्षण दिखने पर तुरंत ही निकट के फीवर क्लीनिक में जाकर अपनी जाँच करायें।

यह भी पढ़े.. Sex Racket: हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का पर्दाफाश, 14 युवक-युवतियां गिरफ्तार, नशीलें पदार्थ जब्त

बता दे कि शनिवार को राजधानी भोपाल में 104 कोरोना पॉजिटिव मिले है, 4 दिन में यहां अबतक 376 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वर्तमान में यहां 598 एक्टिव केस है, सख्ती के बावजूद लगातार स्थिति गंभीर होती जा रही है, अगर ऐसा ही रहा तो 8 मार्च महिला दिवस (Women’s Day) सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  (Shivraj Singh Chauhan) नाइट कर्फ्यू (night curfew) का ऐलान कर सकते है, इस बात के संकेत वे पहले ही दे चुके है।

भोपाल कलेक्टर भोपाल कलेक्टर