बीमा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना (Corona) के बढ़ते संक्रमण के बीच किसानों के लिए राहत भरी खबर है। लॉकडाउन (Lockdown) और कोरोना कर्फ्यू के बावजूद प्रदेश में किसानों  (Farmers) से समर्थन मूल्य (MSP) पर उपार्जन कार्य सतत चालू रहेगा। वही फसल का एक एक दाना सरकार खरीदेगी। यह भरोसा मुख्यमंत्री और कृषि मंत्री ने दिया है।सीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिये है कि खरीदी केन्द्रों पर आवश्यक व्यवस्थाएँ और कोरोना संक्रमण से सुरक्षा के सभी उपाय करते हुए कोरोना गाइड-लाइन का पालन सुनिश्चित किया जाए।

यह भी पढ़े.. कोरोना को लेकर चिंतित मप्र सरकार, मुख्यमंत्री राहत कोष से जिलों को 52 करोड़ जारी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) होने के दौरान भी प्रदेश में किसानों से समर्थन मूल्य पर उपार्जन कार्य (Procuration) सतत चालू रहेगा। अन्नदाता के हित में यह निर्णय लिया गया है कि उपार्जन कार्य को कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) के कारण बाधित नहीं होने दिया जाएगा। किसान भाई प्राप्त मैसेज के अनुसार निर्धारित तिथि को अपनी फसल विक्रय के लिये उपार्जन केंद्रों पर पहुँचें।

वही कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) ने कहा है कि किसानों के हित में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। उपार्जन केंद्रों पर कार्य निरंतर चल रहा है। कोरोना संकट काल में भी अन्नदाता को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होने दी जाएगी। उनकी हर संभव मदद की जाएगी। कोरोना कर्फ्यू के दौरान ग्रीष्मकालीन खेती के लिए खाद, बीज और कृषि उपकरणों की दुकानों को खुले रखने का निर्णय लिया गया है।

यह भी पढ़े.. सीएम शिवराज सिंह बोले- लॉकडाउन नहीं कोरोना कर्फ्यू, सेवानिवृत्ति की अवधि बढ़ाएँ

सीएम शिवराज सिंह चौहान और कमल पटेल ने किसानों से अपील करते हुए कहा है कि पूरी सावधानियाँ बरतते हुए अपनी बारी आने पर फसल विक्रय के लिए उपार्जन केंद्रों पर पहुँचे। कोरोना गाइड-लाइन का पालन करते हुए उपार्जन केंद्रों पर अपनी फसलों का विक्रय करें। उपार्जन केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करें, MASK का उपयोग करें और अन्य सावधानियाँ रखे।