MP News : 38 लाख से ज्यादा बिजली उपभोक्ताओं को मिली 808 करोड़ 94 लाख की सब्सिडी, 15 जिलों को लाभ, जानिए कैसे?

electricity bill payment

MP Electricity Consumers 2023 : मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बिजली उपभोक्ताओं के लिए राहत भरी खबर है । मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी कार्यक्षेत्र के भोपाल, नर्मदापुरम्, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के 16 जिलों में राज्य शासन द्वारा दिसंबर 2022 में 38 लाख 66 हजार 575 बिजली उपभोक्ताओं को 808 करोड़ 94 लाख की सब्सिडी दी गयी है। अटल गृह ज्योति योजना में 29 लाख 51 हजार 667 घरेलू उपभोक्ताओं को लगभग 150 करोड़ 80 लाख रूपये एवं अटल किसान ज्योति योजना में 9 लाख 14 हजार 908 कृषि उपभोक्ताओं को 658 करोड़ 14 लाख रूपये की सब्सिडी दी गई है।

इससे पहले राज्य शासन द्वारा अटल गृह ज्योति योजना में माह नवंबर 2022 में 29 लाख 30 हजार 552 घरेलू उपभोक्ताओं को लगभग 150 करोड़ 7 लाख रूपये एवं अटल किसान ज्योति योजना में 8 लाख 77 हजार 943 कृषि उपभोक्ताओं को 641 करोड़ 43 लाख की सब्सिडी दी गई थी, मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बताया था कि अटल गृह ज्योति योजना एवं किसान ज्योति योजना में नवंबर माह में 38 लाख से अधिक बिजली उपभोक्ता ने लाभ उठाया है।

कौन हैं योजना के पात्र

मध्यप्रदेश शासन की अटल गृह ज्योति योजना के अनुसार वे घरेलू उपभोक्ता इसके लिए पात्र है, जिनकी औसत मासिक खपत 150 यूनिट या इससे कम होती है। दैनिक औसत खपत 5 यूनिट या कम होने पर ही उस माह विशेष में पात्रता तय होती है, इसी के अनुसार सब्सिडी मिलती है। प्रथम 100 यूनिट तक बिजली सौ रूपए में मिलती है। इसके बाद 50 यूनिट की बिजली सामान्य दर से प्रदाय की जाती है। 30 दिन में 150 यूनिट से ज्यादा खपत होने पर माह विशेष में गृह ज्योति योजना की पात्रता समाप्त हो जाती है।

बिजली लाइनों के नीचे होलिका दहन न करें

एमपी ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने सभी बिजली उपभोक्ताओं तथा आम नागरिकों से अपील की है कि बिजली की ऐसी लाइनें जिसमें विद्युत शक्ति प्रवाहित होती है, उनके नीचे होलिका दहन नहीं करें। ट्रांसफार्मर के समीप भी होलिका दहन न किया जाये। यहाँ पर होलिका दहन करने पर दुर्घटना की संभावना सदैव बनी रहती है।


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News