बीजेपी विधायक त्रिपाठी की मंत्री पटवारी से मुलाकात, चर्चाओं का बाजार गर्म

43529

भोपाल|  मध्य प्रदेश में भाजपा के लिए मुश्किलें कम नहीं हो रही है| पवई विधायक की सदस्यता समाप्त होने के बाद विधानसभा में क्रॉस वोटिंग करने वाले बीजेपी विधायक शरद कोल और नारायण त्रिपाठी के रवैये ने एक बार फिर बीजेपी की चिंता बढ़ा दी है| हाल ही में शरद कोल ने कहा था कि वे भाजपा के सदस्य हैं, लेकिन प्रदेश सरकार के काम से संतुष्ट हैं और विकास को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ हैं। इस बीच बुधवार को मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी ने मंत्री जीतू पटवारी से उनके बंगले पर पहुंचकर मुलाकात की| प्रदेश में वर्तमान सियासी हालातों के मद्देनजर विधायक की मंत्री से मुलाकात पर सियासत गरमा गई है| 

दरअसल, विधायक नारायण त्रिपाठी ने मंत्री जीतू पटवारी से मुलाकात की| दोनों के बीच करीब एक घंटे तक मुलाकात हुई। जिसके बाद मीडिया के सामने आए त्रिपाठी ने कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए वो मंत्री से मिलने पहुंचे थे। किसान कर्जमाफी को लेकर भी त्रिपाठी ने सवाल उठाए। वहीं जीतू पटवारी ने कहा कि विधायक क्षेत्र से विकास से जुड़े मामले लेकर आए थे।

पिछले दिनों जब विधानसभा में शरद कोल और नारायण त्रिपाठी ने क्रॉस वोटिंग की थी तो चर्चा थी कि दोनों विधायक बीजेपी का साथ छोड़ देंगे| लेकिन शरद कोल ने खुले मंच से कहा था कि वे भाजपा में ही हैं, वहीं झाबुआ उपचुनाव से पहले बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि नारायण त्रिपाठी बीजेपी में ही हैं| इस दौरान त्रिपाठी भी शामिल थे| अब इन दोनों विधायकों की कांग्रेस की नजदीकी से एक बार फिर चर्चाएं गर्म हो गई हैं| इन चर्चाओं को इसलिए भी बल मिल रहा है क्यूंकि हाल ही में सीएम कमलनाथ ने कहा था दो से तीन सीट और आएँगी| उनके इस बयान के बाद से ही सियासत में चर्चाओं का बाजार गर्म है| 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here