कांग्रेस को ‘बेनकाब’ करने भाजपा तैयार कर रही माफियाओं की कुंडली

भोपाल। मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार ने एंटी माफिया अभियान छेड़ रखा है। हर क्षेत्र में जहां माफियाओँ ने कब्जा कर रखा है उन पर सरकार कार्रवाई कर रही है। सबसे अधिक भू माफियाओं पर कार्रवाई की गई है। लेकिन विपक्षी पार्टी भाजपा ने सरकार पर एक तरफा कार्रवाई के आरोप लगाए हैं। अब भाजपा कांग्रेस सरकार के खिलाफ काउंटर करने के लिए नई रणनीति तैयार कर रही है। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भाजपा जनता के सामने आसे माफियाओं का पर्दाफाश करने की रणनीति तैयार कर रही है जिन्हें कथित तौर पर कांग्रेस सरकार या नेताओं का संरक्षण मिला है और कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद उनपर कार्रवाई नहीं की जा रही है। प्रदेश के सभी नेताओं को पार्टी ने निर्देश दिए हैं कि वह उनके जिले की लिस्ट तैयार करें जहां पर शराब माफिया से लेकर भू माफियाओं की कुंडली तैयार करने के लिए कहा है। 

पार्टी ने संगठन के सारे जिलों से कांग्रेस से जुड़े शराब माफिया, रेत माफिया, भू माफिया, शिक्षा माफिया खनिज माफिया सहित तमाम गोरखधंधे में लिप्त नेताओं की सूची मांगी है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि भाजपा ऐसे माफियाओं का नाम सार्वजनिक करेगी और बताएगी कि सरकार की कार्रवाई निष्पक्ष नहीं, बल्कि भेदभावपूर्ण है।

गौरतलब है कि इस मामले में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान भी सरकार के खिलाफ खुलकर सामने आए हैं। खैर जो भी है, माफिया भाजपा के हों या कांग्रेस के, जनता के लिए आने वाला समय सियासी मनोरंजन का होगा। दोनों पार्टी के वे चेहरे जनता के सामने बेनकाब होंगे, जो माफिया से जुड़े होंगे या खुद गलत कामों में लिप्त होंगे।