बसपा विधायक की दबंगई, मंत्री के बंगले पर कब्ज़ा, पीडब्ल्यूडी ने तोड़ा ताला

BSP-MLA-rambai-capture-minister's-bungalow--PWD-broke-the-lock-in-bhopal

भोपाल|  मध्य प्रदेश के दमोह जिले के पथरिया सीट से बसपा विधायक रामबाई की दबंगई के चर्चे पिछले एक माह से जमकर हो रहे हैं| अफसरों को तू तड़ाक भाषा में फटकार लगाना और फ़ोन पर ही अधिकारियों को धमकाना, मंडी में कर्मचारियों को धक्का देकर कार में बैठाने के वीडियो अब तक वायरल हो चुके हैं| अब विधायक की दबंगई का नजारा भोपाल में देखने को मिला है| जहां रामबाई ने मंत्री कमलेश्वर पटेल को आवंटित बंगले में जबरन अपना ताला लगा दिया| इस बात की खबर जैसे ही पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों को लगी उन्होंने बंगले जाकर विधायक का ताला तोड़ा और नया ताला लगा दिया| 

पथरिया की बसपा विधायक राम बाई के लोगों ने 74 बंगले के बी-12 बंगले पर ताला मार दिया। इसके पहले रामबाई खुद एक दिन आई थीं और बंगले के बारे में पूछताछ की थी। बी-12 बंगले को पहले मंत्री कमलेश्वर पटेल को आवंटित किया गया था, लेकिन बाद में प्रदीप जायसवाल और कमलेश्वर पटेल ने आपस में अपना बंगला बदल लिया। लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता अखिलेश अग्रवाल ने मामले में अनभिज्ञता जाहिर की है। 

 

लोनिवि मंत्री ने कहा था बंगले में ताला डालो

ताला तोडऩे की खबर लगने के बाद विधायक ने नाराजगी जताई और सरकार के खिलाफ धरना देने की धमकी दी। बसपा विधायक ने कहा कि विधानसभा सत्र के दौरान स्पीकर एनपी प्रजापति के सामने पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने मुझसे बंगले पर ताला लगाने के लिए कहा था। उन्होंने कहा कि जब कमलेश्वर पटेल ने उस बंगले को लेने से मना किया तो मैंने इस बंगले को लेने की इच्छा जाहिर की। मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने मुझे बंगले में अपना ताला लगाने के लिए कहा। वर्मा ने मुझसे कहा था कि अपना सामान ले जाकर बंगले में रख दो तो मैंने कहा कि मैं सामान कहां से लाऊंगी। मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी इस बारे में चर्चा हुई थी। मुझे समझ में नहीं आता कि कांग्रेस वाले सामने कुछ और बात कर रहे हैं और पीठ पीछे ताला तोड़ा जा रहे है। इनकी अभी ही यह हालत है तो आगे क्या होगा। वे बोलीं कि मुझे बंगले की कोई जरूरत नहीं है, मंत्री के कहने पर ही अपने कार्यकर्ता से बंगले में ताला लगवाया था।

सरकार से समर्थन वापस लेने की धमकी

बसपा विधायक रामबाई ने एक बार फिर मंत्री बनाने की मांग की है। साथ ही सरकार को चेतावनी दी है कि यदि फरवरी तक मंत्री नहीं बनाया तो फिर वे विचार करेंगी कि कमलनाथ सरकार को समर्थन दें या न दें। रामबाई ने बयान देकर कांग्रेस को परेशानी में डाल दिया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 24 जनवरी तक मंत्री बनाने की बात कही थी। अभी तक तो नहीं बनाया, अब देखते हैं आगे क्या होगा। अभी मजबूरी में धैर्य तो रखना ही पड़ेगा। जहां तक मंत्री बनाने की बात है तो वह मंत्री बनाएंगे। हमारी वजह से ही कांग्रेस की सरकार बनी है। जनता ने सत्ता परिवर्तन किया है, हम जनता का सम्मान करते हैं। हम कमलनाथ पर विश्वास करते हैं। उन्हें पहले ही हम लोगों को मंत्री बना देना था। हालांकि, कल क्या हो सकता है, कुछ नहीं कहा जा सकता, इसलिए अभी कुछ कहना ठीक नहीं है।

नए वीडियो से फिर चर्चा में विधायक 

बसपा विधायक रामबाई का एक और वीडियो वायरल हुआ है। विधायक ने इस बार बटियागढ़ तहसील के बाबू निरपत से किसान से रिश्वत के तौर पर लिए गए 3000 रुपये वापस कराए। रामबाई ने बाबू से कान पकड़ाए और दोबारा ऐसा न करने की हिदायत भी दी। इस दौरान बड़ी संख्या में किसान और कर्मचारी भी मौजूद रहे। वीडियो में रामबाई कहती दिख रही हैं कि किसी गरीब के साथ ऐसा नहीं करना चाहिए। हम बार-बार कह चुके हैं। फिर भी आप लोग नहीं मान रहे हैं। दरअसल, रामबाई से किसानों ने बटियागढ़ तहसील के बाबू की शिकायत की थी कि किसानों से रुपये लिए जाते हैं। बसपा विधायक रामबाई ने मंत्री के बंगले पर लगाया अपना ताला भोपाल। बहुजन समाज पार्टी की विधायक और अपने बयानों से चर्चित हुई रामबाई ने एक और कारनामा किया है। अब उन्होंने खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल को राजधानी में आवंटित बंगले पर अपना ताला लगा दिया। मामले का पता चलने के बाद लोक निर्माण विभाग के कर्मचारियों ने मंगलवार देर रात ताला तोड़ दिया।