साधना सिंह को इस सीट से लोकसभा चुनाव लड़ाने शुरू हुआ सोशल कैंपेन

campaigning-start-on-social-media-for-sadhna-singh-ticket-to-lok-sabha-election-

भोपाल | विधानसभा चुनाव में तीन राज्यों की हार के बाद अब भाजपा के लिए लोकसभा चुनाव बड़ा चुनौती पूर्ण है| जिसके लिए पार्टी नेता अभी से तैयारियों में जुट गए हैं| वहीं टिकट के लिए भी लॉबिंग शुरू हो गई है| विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के अगला चुनाव न लड़ने के एलान के बाद विदिशा सीट पर दिग्गज नेताओं की नजर है| वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के केंद्र में न जाने की घोषणा के बाद से उनकी पत्नी साधना सिंह के भी यहां से चुनाव लड़ने के कयास लगाए जा रहे हैं| इस बीच उनके लिए सोशल मीडिया पर अभियान भी शुरू हो गया है| 

विदिशा संसदीय सीट से पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी चुनाव जीत चुके हैं। इस सुरक्षित सीट पर उन्ही ने सुषमा स्वराज को चुनाव लड़ने का आमंत्रण दिया था| अब सुषमा चुनाव नहीं लड़ने वाली है तो शिवराज समर्थक चाहते हैं कि उनकी पत्नी साधना सिंह को टिकट देकर यहां से चुनाव लड़ाया जाए| विदिशा भाजपा के जिलाध्यक्ष राकेश सिंह जादौन ने इसके सोशल मीडिया पर कैंपेनिंग शुरू कर दी है| उन्होंने फेसबुक पोस्ट के जरिए कहा है कि अबकि बार यहां से पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह को ही प्रत्याशी बनाया जाए। इस तरह का अभियान सोशल मीडिया में अन्य लोगों द्वारा भी चलाया जा रहा है। जिसमे कहा जा रहा है कि विदिशा का टिकट साधना भाभी को दिया जाए। जिलाध्यक्ष राकेश सिंह जादौन जल्द ही भाजपा कार्यालय जाकर प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह को इसको लेकर पत्र भी सौंपेंगे और साधना सिंह के लिए टिकट की मांग रखेंगे|  जादौन ने कहा कि आम कार्यकर्ताओं की भावना है कि अब विदिशा का नेतृत्व साधना भाभी ही करें।  

बता दें कि मुख्यमंत्री रहते हुए शिवराज सिंह चौहान के साथ उनकी पत्नी को अक्सर हर कार्यक्रम में देखा जाता रहा है| लम्बे समय से उनके राजनीति में आने और चुनाव लड़ने के कयास लगाए जाते रहे हैं| हालाँकि उन्होंने खुलकर इसको स्वीकार नहीं किया| लेकिन इस बार जब भाजपा सत्ता में नहीं है और शिवराज स्वयं भी केंद्र में नहीं जाना चाहते तो ऐसी संभावना है कि साधना यहां से चुनाव लड़ सकती है| लेकिन इस एक मात्र सीट पर कई दिग्गज नेताओं की भी नजर है, जिनमे केंद्रीय मंत्री भी शामिल हैं| साधना सिंह किरार समाज की राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, प्रदेश में ओबीसी वोटर को साधने के लिए पार्टी शिवराज की धर्मपत्नी साधना सिंह पर दांव आजमा सकती है|