200 करोड़ फर्जी लोन मामले में प्रदेश के 3 ठिकानों पर CBI की रेड, कहा- जल्द होंगे बड़े खुलासे

सीबीआई ने प्रदेश के राजधानी भोपाल (bhopal) और निवाड़ी (niwari) में छापामार कार्रवाई की।

cbi-conducting-searches-at-around-110-places-across-19-states

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। देश में गुरुवार को सीबीआई (CBI) कार्रवाई की गई जहां 11 राज्यों में 100 से अधिक जगह पर छापेमारी की गई। बैंक धोखाधड़ी (Bank fraud) को लेकर हुई इस छापेमारी कार्रवाई में राजधानी भोपाल के भी 2 बैंक घोटाले की बात सामने आई है। इस मामले में दोनों बैंक द्वारा 200 करोड़ के घोटाले की शिकायत सीबीआई से की गई थी। जिसके बाद सीबीआई ने प्रदेश के राजधानी भोपाल (bhopal) और निवाड़ी (niwari) में छापामार कार्रवाई की।

सीबीआई की माने तो भोपाल के बैंक ऑफ बड़ौदा (bankk of baroda) से ज्योति पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (Jyoti Power Corporation Limited) के संचालक कमलेश और संजय निमानी ने 196 करोड रुपए का लोन लिया था। जहां दस्तावेजों की जांच के बाद देश के अन्य शहरों में छापामार कार्रवाई की गई। इंडियन ओवरसीज बैंक से सिद्धपाल सिंह भदोरिया की कंपनी ने भी प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेज के आधार पर चार करोड़ के लोन बैंक से लिए थे। वही सिद्धपाल सिंह द्वारा पैसे जमा नहीं करने पर इंडियन ओवरसीज बैंक (Indian Overseas Bank) ने इसकी शिकायत सीबीआई से की थी। इसके बाद सिद्धपाल सिंह भदोरिया के आवास पर सीबीआई टीम ने रेड मारी थी।

Read More: भारत बंद: सड़कों पर निकले किसान, प्रधानमंत्री का पुतला फूंका, बाज़ार रहा बंद

सीबीआई की तरफ से जिन शहरों में छापेमारी कार्रवाई की गई। उसमें कानपुर, गाजियाबाद, मथुरा, नोएडा, दिल्ली, जयपुर, गंगानगर, भोपाल, निवाड़ी, करनाल, अहमदाबाद और राजकोट शामिल है। वही मामले में यूबीआई, बैंक ऑफ़ बरोदा, पीएनबी, एसबीआई, आईडीबीआई, केनरा बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया आदि से फर्जी दस्तावेज के नाम पर लोन लिए गए हैं।

बता दे कि देश के कई बड़े बैंकों से 30 से अधिक मामले में 3700 करोड़ से अधिक की धनराशि बैंक द्वारा फर्जी तरीके से लोन के नाम पर ली गई है। जिसके बाद विभिन्न पब्लिक सेक्टर बैंक की ओर से केंद्रीय जांच ब्यूरो में शिकायत दर्ज कराई गई थी।