छात्रों को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की बड़ी घोषणा

मुख्यमंत्री ने कहा है कि पराक्रमपूर्ण तथा उत्कृष्ट कार्य के लिए मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के 5 विद्यार्थियों (Student) को प्रति वर्ष नेताजी सुभाष चन्द्र बोस पराक्रम पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

Tokyo Olympics

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Subhash Chandra Bose) के 125वें जन्मदिवस के मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) बड़ी घोषणा की है।मुख्यमंत्री ने कहा है कि पराक्रमपूर्ण तथा उत्कृष्ट कार्य के लिए मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के 5 विद्यार्थियों (Student) को प्रति वर्ष नेताजी सुभाष चन्द्र बोस पराक्रम पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

यह भी पढ़े… MP College: कॉलेजों को मिली जिम्मेदारी, उच्च शिक्षा विभाग को सौंपना होगा रिपोर्ट

दरअसल, आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शासकीय सुभाष उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भोपाल (Excellent Higher Secondary School Bhopal) स्थित नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे थे। इस मौके पर शिवराज ने कहा कि तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा का उद्घोष कर प्रत्येक देशवासी के हृदय में स्वतंत्रता की अखण्ड अग्नि प्रज्ज्वलित कर देने वाले मां भारती के वीर सपूत #SubhashChandraBose की जयंती पर सुभाष चंद्र बोस तिराहे पर उनकी प्रतिमा के चरणों में श्रद्धा सुमन अर्पित किया।

मुख्यमंत्री चौहान ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती पर उनका स्मरण करते हुए कहा कि देश को परतंत्रता की बेड़ियों से मुक्त कराने के लिए नेताजी ने विदेश जाकर आजाद हिन्द फौज का गठन किया। इस पराक्रम के परिणामस्वरूप अंग्रेज देश छोड़ने के लिए विवश हुए। पराक्रमपूर्ण तथा उत्कृष्ट कार्य के लिए मध्य प्रदेश के 5 विद्यार्थियों को प्रति वर्ष नेताजी सुभाष चन्द्र बोस पराक्रम पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती को प्रति वर्ष पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। इस अवसर पर सांसद तथा भाजपा अध्यक्ष वी.डी. शर्मा (BJP President VD Sharma) तथा स्थानीय नागरिक भी उपस्थित थे।

वही विपक्ष को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस (Congress) को जनता के सुख-दु:ख से कोई लेना-देना नहीं है, इनके नेता तो केवल अपने पदों और हितों की रक्षा में ही अपनी समस्त ऊर्जा नष्ट कर रहे हैं। एक परिवार की गुलामी में जकड़ी कांग्रेस केवल सेवा का नाटक करती है, सेवा नहीं।