बेरोजगारों युवाओं को सौगात, युवा स्वाभिमान योजना का सीएम ने किया शुभारंभ

cm-kamalnath-starts-yuva-swabhiman-yojana-in-madhya-pradesh

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश के युवाओं को बड़ी सौगात दी है। मुख्यमंत्री ने युवा स्वाभिमान योजना का शुभारंभ किया। इस योजना से 21 से 30 साल तक बेरोज़गार या सालाना 2 लाख से कम आय वाले युवाओं को योजना का लाभ मिलेगा। इस योजना के तहत शहरी युवाओं को ना सिर्फ 100 दिन के रोज़गार की गारंटी बल्कि इसमें ट्रेनिंग भी दी जाएगी। इस मौके पर सीएम ने कहा कि मैं प्रदेशवासियों को धन्यवाद देना चाहता हूं कि आपने हमारी सरकार बनाई। हमने बहुत की कम समय में युवाओं के लिए यह नई योजना शुरू की है और आगे भी हम आपकी सभी अपेक्षाओं पर खरे उतरेंगे। युवाओं को नारे नहीं चाहिए,उन्हें रोजगार चाहिए। रोजगार के लिए हमें निवेश लाना होगा। निवेश से नौकरियां आएगी। हमने उसके लिए भी नई नीति बनाई है।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश में विकास का नया नक्शा बनाया जाएगा। कृषि क्षेत्र का विकास करना और उसमे सुधार सबसे बड़ी चुनौती हैं। हमने कृषि क्षेत्र को मजबूत करने का संकल्प लिया है। एमपी में कृषि व्यवस्था चौपट है, किसान उत्पादन तो कर लेता है लेकिन उसे बाज़ार में सही क़ीमत नहीं मिलती, दूसरी सबसे बड़ी चुनौती मध्य प्रदेश में बेरोजगारी की है। आज का नौजवान कोई ठेका नहीं चाहता, कोई कमीशन नहीं चाहता, आज का नौजवान नौकरी चाहता है।किसान की क्रय शक्ति बढ़ेगी तो उससे अर्थव्यवस्था मजबूत होगी।मैंने जो वचन दिया था उसे पूरा करूँगा, लगभग 57 दिनों में मैंने कई वचन निभाए। इसी के साथ कांग्रेस ने विधान सभा चुनाव में युवाओं से किया अपना एक और वादा पूरा कर दिया। 

पीएम मोदी पर भी बोला हमला

वही पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कमलनाथ ने कहा कि मोदी जी ने साढ़े चार साल पहले बड़े बड़े वादे किए थे। बड़े बड़े नारे दिए थे, डिजिटल इंडिया, स्किल इंडिया सब जुमला साबित हुई। केंद्र ने अभी कहा है कि किसानों को साल भर में 6 हज़ार रुपये देंगे , अब एमपी में महज़ 100 दिन में साढ़े 13 हज़ार मिलेंगे।

गौरतलब है कि इस योजना में अभी तक 49 हजार 294 बेरोजगार युवाओं ने अपना पंजीयन करवाया है। योजना में 21 से 30 वर्ष आयु समूह के शहरी युवा पंजीयन करवा रहे हैं। योजना में 2 लाख रूपये से कम वार्षिक आये वाले परिवार के शहरी युवाओं को लाभांवित किया जाएगा। योजना के अंतर्गत नगरीय निकायों में 21 फरवरी से पंजीकृत युवाओं को प्रशिक्षण दिया जायेगा। युवाओं को 100 दिन में 13 हजार 500 रूपये स्टाइपेंड भी मिलेगा। प्रशिक्षण के दौरान युवाओं को काम की जिम्मेदारी दी जायेगी।मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना में भोपाल में 2800 युवाओं ने पंजीयन करवाया हैं। कार्यक्रम स्थल पर पंजीकृत युवाओं के अथन्टिकेशन के लिए 20 काउंटर बनाये गये हैं। प्रदेश में अभी तक 63 हजार से अधिक युवाओं ने पंजीयन करवाया  है। 

एमपी में 21 से 30 वर्ष तक के साढ़े 6 लाख युवाओं को मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना का लाभ होगा।अब युवाओं को 100 दिन काम की गारंटी मिलेगी।

जयवर्धन सिंह, नगरीय प्रशासन मंत्री 

अब एमपी का युवा बेरोजगार नही रहेगा। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अब विंडो सिस्टम ख़त्म कर दिया है। अब उद्योगपतियों से टेबल पर बात होगी।

पी सी शर्मा, जनसंपर्क मंत्री