टॉपर वनीषा को सीएम शिवराज ने सौंपा 2 लाख का चेक, बोले-कोई कमी नहीं होने दूंगा

इस मौके पर सीएम शिवराज सिहं चौहान ने कहा कि वनिशा ने 99.8% मार्क्स अर्जित कर अभूतपूर्व सफलता प्राप्त की है, उनकी इच्छा आईआईटी में पढ़कर आईएएस बनने की है।

वनीषा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। 10 वीं सीबीएसई बोर्ड में 99.8% मार्क्स पाने वालीऔर कोरोना काल में अपने माता-पिता को खोने वाली मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की होनहार छात्रा वनीषा पाठक (Vanisha Pathak को लेकर शिवराज सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वनीषा को 2 लाख का चेक सौंपा और कहा कि वह आईएएस (IAS) बनना चाहती है तो सरकार जरुर उसका सपना पूरा करेगी।

यह भी पढ़े.. अब इन कर्मचारियों की बल्ले बल्ले, 6 प्रतिशत DA की बढ़ोत्तरी, सैलरी में होगा इजाफा

इस मौके पर सीएम शिवराज सिंह चौहान(CM Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि वनिशा ने सीबीएसई 10वीं में 99.8% मार्क्स (10th CBSE Board)  अर्जित कर अभूतपूर्व सफलता प्राप्त की है, उनकी इच्छा आईआईटी में पढ़कर आईएएस बनने की है। विवान क्रिकेटर बनना चाहते हैं। #COVID19 काल में इनके माता-पिता नहीं रहे, लेकिन मामा तो है!मैं इन अत्यंत प्रतिभाशाली बच्चों को किसी भी चीज़ की कमी महसूस नहीं होने दूंगा।

यह भी पढ़े.. MP School: छात्रों के लिए खुशखबरी, ऑनलाइन लॉटरी से स्कूलों का आवंटन, आज से प्रवेश शुरु

सीएम शिवराज सिहं चौहान ने कहा कि #COVID19 के दौरान अपने माता-पिता को खोने वाली कु. वनिशा पाठक को मुख्यमंत्री COVID-19 बाल सेवा योजना (Chief Minister COVID-19 Child Service Scheme) के अंतर्गत रु. 2 लाख की राशि सौंपी। वनिशा और उनके छोटे भाई को योजना के अंतर्गत 5-5 हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन स्वीकृत की गई है। बेटी वनिशा, खूब आगे बढ़ो, खूब पढ़ो, हमारी ओर से किसी भी चीज की कोई कमी आपको नहीं रहने दी जाएगी।