सीएम ने नवनियुक्त मंत्रियों से की चर्चा, कल मंत्रालय में होगी पहली कैबिनेट बैठक

cm-took-unofficial-meeting-with-ministers

भोपाल। मध्यप्रदेश के नवनियुक्त मंत्रियों से मुख्यमंत्री कमलनाथ शपथ समारोह के बाद पीसीसी में शाम पांच से मुखातिब हुए। अनौपचारिक बैठक में मंत्रियों से सीएम नाथ ने कांग्रेस के वचनपत्र में किए गए वादों को पूरा करने की रणनीति पर चर्चा की। इस बैठक में कैबिनेट मंत्रियों के साथ पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह और कांग्रेस सांसद कांतिलाल भूरिया भी शामिल हुए। सीएम ने बुधावार को एनेक्सी में कैबिनेट बैठक बुलाई है। बैठक में अधिकारियों से विभागों को लेकर चर्चा होगी। इसमें कृषि का मुद्दा सबसे अहम बताया जा रहा है। 

बैठक खत्म होने के बाद मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सभी मंत्रियों से चर्चा की। उन्होंने सभी मंत्रियों को कहा है कि वह जनता के बीच जाएं। कांग्रेस द्वारा किए गए वादों को पूरा करने का संदेश प्रदेश की जनता तक पहुंचाएं। उन्होंंने कहा कि कांग्रेस हर हाल में अपने वचन को पूरा करेगी।

कमलनाथ ने मंत्रियों को काम करने के टिप्स दिए। और मंत्रियों से उनके इंट्रेस्ट के बारे में पूछा। बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और कांतिलाल भूरिया भी मौजूद थे। सूत्रों का कहना है कि विभागों का वितरण आज देर रात या बुधवार को हो सकता है। बताया जा रहा है कि कमलनाथ के मंत्रियों से उनके रुचि के बारे में इसलिए पूछा गया क्योंकि फिर उसी के अनुसार उन्हें विभाग दिया जा सके। बैठक में कमलनाथ ने मंत्रियों से कहा कि हमें जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरना है। सभी मंत्री विभाग वितरण के बाद कांग्रेस के वचन पत्र (घोषणा पत्र) में किए वादों पर किस तरह काम करना है इस पर अमल शुरू कर दें। उन्होंने कहा कि हमारे पास समय कम है और काम ज्यादा। इसलिए पहले उन कामों को हाथ में ले जिनके परिणाम जल्दी मिल सकें।

नवनियुक्त कैबिनेट मंत्री बाला बच्चन ने आज कहा कि राज्य के विकास के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रोडमैप तैयार कर लिया है और हम सभी उसके अनुरूप कार्य करेंगे। बच्चन ने यहां राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह के बाद मीडिया से कहा कि रोडमैप के अनुरूप ही कार्य करना उनकी प्राथमिकताएं हैं। नयी सरकार बनने के बाद अब राज्य के विकास का कार्य तेजी से होगा। इसके बाद मंत्रिपरिषद की बैठक कल भी होगी। राज्य के अन्य मंत्रियों ने भी राज्य के विकास और जनता की आकांक्षाओं के अनुरूप कार्य करने की बात कही।