कृषि मंत्री कमल पटेल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के भिंड जिले (Bhind District) के उमरी में सरकारी खरीदी केन्द्र का वीडियो वायरल (VIDEO VIRAL) होने के बाद  कृषि मंत्री कमल पटेल  ने बड़ा एक्शन लिया है। मंत्री कमल पटेल ने भिण्ड कलेक्टर इस लापरवाही की जाँच कराने के निर्देश दिये हैं और कहा है कि जाँच में दोषी पाये जाने पर एफआईआर और बर्खास्तगी की कार्यवाही की जाए।

यह भी पढ़े.. Unlock के बाद नए केसों में कमी, देश में 27वां स्थान CM बोले-भोपाल पर विशेष ध्यान दें

दरअसल, बीते दिनों सोशल मीडिया (Social Media) पर भिंड जिले के उमरी के सरकारी ख़रीदी केंद्र का एक वीडियो तेजी से वायरल हुआ था, इसमें एक कर्मचारी गेहूँ को गीला करते हुए नजर आ रहा था, ताकी गेहूँ निकाल कर बोरों का वज़न बढ़ाया जा सके।जैसे ही इसकी सूचना कृषि मंत्री कमल पटेल को लगी उन्होंने भिंड कलेक्टर भिण्ड को कार्यवाही के निर्देश दिये थे। इसके बाद आज भिण्ड कलेक्टर ने तत्काल जाँच कराकर समिति प्रबंधक उमरी भजन सिंह भदौरिया को निलम्बित कर दिया है

वही आज मंगलवार को कृषि मंत्री कमल पटेल (MP Agriculture Minister Kamal Patel) ने बताया कि  आज भिंड कलेक्टर (Bhind Collector) ने वीडियो की जानकारी देते हुए बताया कि संबंधित वीडियो सेवा सहकारी संस्था उमरी का था।जांच में समिति प्रबंधक की लापरवाही पाई जाने के कारण उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया गया है।किसान (Farmers) भाईयों के मामले में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

यह भी पढ़े.. Government Employee: सरकारी कर्मचारियों को लेकर नए निर्देश जारी, रोज आना होगा ऑफिस

कृषि मंत्री कमल पटेल  ने भिण्ड कलेक्टर को सेवा सहकारी संस्था, उमरी में गेहूँ उपार्जन में बरती गई लापरवाही की जाँच कराने के निर्देश दिये हैं और कहा है कि जाँच में दोषी पाये जाने पर FIR और बर्खास्तगी की कार्यवाही भी सुनिश्चित करें, ताकि भविष्य में अन्य कर्मचारी इस प्रकार की लापरवाही का दुस्साहस न करें।पटेल ने निर्देशित किया है कि समिति गठित कर प्रकरण की सघन जाँच करायें और दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।