कैबिनेट मंत्री को हटाने के लिए कांग्रेस महामंत्री ने खोला मोर्चा, सीएम को लिखा पत्र

congress-leader-wrote-letter-to-remove-minister-

भोपाल। मध्य प्रदेश में कांग्रेस की गुटबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह द्वारा दिए गए बयान की प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री भरत पोरवाल ने कड़ी निंदा करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ से उनको पद से हटाने की मांग की है। 

इस संबंध में पोरवाल ने मुख्यमंत्री को पत्र में उल्लेख करते हुए लिखा है कि सज्जन सिंह वर्मा उज्जैन जिले के प्रभारी हैं। उन्होंने उज्जैन शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेश सोनीजी के बारे में ‘मीडिया’ से ‘अपरिपक्व’ व बच्चा बुद्धि जैसे शब्दों का प्रयोग किया हैं। यह कांग्रेस संगठन का अपमान है। चूंकि अध्यक्ष महोदय कांग्रेस संगठन ने सज्जन वर्मा को विधायक बनाया? मंत्री बनाया? प्रभारी मंत्री बनाया? इसलिए नहीं कि यह कांग्रेस संगठन का अपमान करें। यह मंत्री के अपरिपक्व होने का सबूत है। इसलिए मंत्री सज्जान वर्मा से इस्तीफा लिया जाए। जिससे कांग्रेस संगठन को मजबूती मिल सके। 

गौरतलब है कि शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेश सोनी के बारे में प्रभारी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि बच्चा बुद्धि लोग अपरिपक्व हैं। दरअसल मीडिया ने उनसे पूछा था कि सोनी ने कांग्रेस नेताओं से कहा है कि प्रभारी मंत्री से दूरी बनाकर रखो। इधर सोनी ने कहा वर्मा हमारे नेता हैं। मैंने प्रभारी मंत्री से दूरी रखने की बात कभी नहीं कही। सवारी के दौरान मैं प्रभारी मंत्री के साथ ही था। सवारी की व्यवस्थाओं को लेकर महाकाल मंदिर गया था, इस वजह से सर्किट हाउस पर नहीं जा सका।