”रामायण” को लेकर आपस में भिड़े दिग्गी-रामेश्वर, यूजर्स ने भी जमकर किया ट्रोल

भोपाल।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अपने एक ट्वीट को लेकर फिर से सुर्खियों में आ गए हैं। रविवार सुबह अपने ट्विटर अकाउंट से पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट करते हुए कहा की दूरदर्शन पर राजीव गांधी के अनुरोध पर रामायण सीरियल बनाया गया था। जिसके बाद से ट्विटर पर लोग उन्हें अब जमकर ट्रोल कर रहे हैं।

दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री सिंह ने अपने ट्वीट में कहा है कि राजीव गांधी जी के अनुरोध पर ही रामानंद सागर ने रामायण सीरियल बनाया था। आपकी केवल जानकारी के लिए।जिसके बाद उन्हें ट्रोल करते हुए बीजेपी विधायक रामेश्वर सिंह ने ट्वीट कर पूछा कि ‘किस के अनुरोध पर कोर्ट को बताया गया था कि राम रावण युद्ध कभी हुआ ही नहीं और प्रभु राम काल्पनिक है’। अन्य लोगों ने भी पूर्व मुख्यमंत्री के जमकर मजे लिए।Republic Of Fekoslovakia ने लिखा आप रामायण बन्द करवा के मानेंगे वहीं एक ट्रोलर ने लिखा “पर कांग्रेस तो श्री राम के अस्तित्व को मानती ही नहीं” तो वहीं एक ने कहा कि “जल्द ही किसी मंदिर में भजन-कीर्तन करते दिखाई देंगे। नरेंद्र मोदी नाम के एक यूजर ने लिखा कि सोनिया गांधी ने किस के अनुरोध पर सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दिया कि श्री राम काल्पनिक है। तो वहीं बिट्टू बाजपेई ने लिखा कि नेहरू चाचा अपनी कलम से लिखे होंगे ना, जानकारी के लिए पूछ रहे हैं।

गौरतलब हो कि पूरे देश में 21 दिन के लॉक डाउन को देखते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर ने ट्वीट कर यह जानकारी दी थी की पब्लिक डिमांड पर रामायण का प्रसारण दूरदर्शन पर पुनः शुरू किया गया है। जिसके बाद सोशल मीडिया पर भी लोगों में काफी उत्साह देखने को मिल रही है। वहीं ट्विटर पर भी रामायण नंबर 1 पर ट्रेंड कर रहा है।