राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के राजगढ़ (Rajgarh) में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिसमें एक कलयुगी पिता ने अपने ही 6 वर्षीय मासूम बेटे को अपनी हवस का शिकार बनाने की कोशिश की। इसी बीच मासूम की मां की नींद खुल गई। और उसने पति के चंगुल से बेटे को बचाया।

यह भी पढ़ें…New Transfer Policy : इन अधिकारी-कर्मचारियों के नहीं होंगे तबादलें 1 जुलाई से होंगे तबादले

जानकारी के अनुसार राजगढ़ जिले के खिलचीपुर थाने में एक मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। जहां एक पत्नि अपने दो बेटों के साथ पति के खिलाफ मामला दर्ज कराने के लिए आई। महिला ने पुलिस को बताया कि उसके दो बेटे हैं जिनकी उम्र 4 एवं 6 वर्ष है। उसका पति बाबूलाल वर्मा अपने ही बेटों के साथ अप्राकृतिक कृत्य की कोशिश कर चुका है। लेकिन परिजनों द्वारा समझाइश के चलते कोई कार्रवाई नहीं की। लेकिन पति फिर भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आया और पत्नी के पास सो रहे 6 वर्ष के बेटे को उठाकर अपने पास ले गया और उसके कपड़े उतारकर अप्राकृतिक कृत्य की कोशिश करने लगा। बच्चे की आवाज से मां की नींद खुल गई और उसने पति और बच्चे को नग्न अवस्था में देखा। जिसके बाद महिला ने पति के चंगुल से अपने बच्चे को छुड़ाया। वहीं इस बात को लेकर पति ने उसके साथ मारपीट भी की। और आखिकार पति की हरकतों से परेशान होकर महिला ने बच्चों के साथ थाने पहुंच कर पुलिस से शिक़ायत की।

बतादें इसके पहले भी आरोपी बेटों के साथ अप्राकृतिक कृत्य की कोशिश कर चुका है। परेशान होकर महिला ने पुलिस की शरण ली और पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया। महिला की शिक़ायत पर ख़िलचीपुर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 498A,377,511, 9/10 पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है ।