आईएएस अधिकारियों के तबादले, हटाए गए भिंड और उमरिया कलेक्टर

-IAS-officers-transferred

भोपाल|  लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगने के बाद आईएएस और आईपीएस अधिकारी चुनाव आयोग के निशाने पर है| शिकायत पर अधिकारियों को हटाया जा रहा है| सतना में अपहरण के बाद बच्चों की हत्या से नाराज सरकार ने शुक्रवार को सतना एसपी संतोष सिंह गौर को हटा दिया। जिसके बाद शनिवार को दो जिलों के कलेक्टर को हटा दिया गया है| चुनाव आयोग के निर्देश पर राज्य शासन ने आईएएस अधिकारियों के तबादले किये हैं| भिंड और उमरिया जिले के कलेक्टर को बदला गया है| 

कलेक्टर उमरिया अमर पाल सिंह और भिंड कलेक्टर छोटेलाल सिंह हटाए गए हैं|  विजय कुमार जे. को भिंड और स्वरोचिष सोमवंशी को उमरिया कलेक्टर बनाया गया है। राज्य सरकार ने उमरिया कलेक्टर तीन आइएएस अफसरों के नाम चुनाव आयोग को भेजे थे। सिंह की पत्नी प्रमिला सिंह भाजपा से पूर्व विधायक रही हैं। विधानसभा चुनाव से पहले वे भाजपा छोडकऱ कांग्रेस में शामिल हुई थीं। भाजपा ने इसे आधार बनाकर सिंह के खिलाफ शिकायत की थी कि उनके रहते निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सकता। जिसके बाद आयोग ने सरकार से पैनल मांगा था| जिसके बाद शनिवार को आदेश जारी किये गए हैं| वहीं भिंड कलेक्टर छोटेलाल सिंह पिछले दिनों चुनाव आयोग की वीडियो कॉन्फ्रेंस में आयोग के सचिव श्री जैन नाराज हो गए थे| चुनाव की तैयारियों को लेकर संतोष जवाब नहीं दे पाने से कलेक्टर के हटने के कयास लगाए जा रहे थे| मालूम हो कि चुनाव के लिहाज से भिंड संवेदनशील जिला माना जाता है और हर चुनाव में अधिकारियों की बदली यहां होती ही है|  

आईएएस अधिकारियों के तबादले, हटाए गए भिंड और उमरिया कलेक्टर