Indore News : जहरीली शराब मामले में पांच आरोपी गिरफ्तार, बार के लायसेंस निरस्त

इंदौर, आकाश धोलपुरे। जहरीली शराब मामले में इंदौर पुलिस ने खुलासा करते हुए पैराडाइज बार और सपना बार के संचालक सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पिछले दिनों इन्ही दोनों बार में बैठकर शराब पीने के बाद पांच लोगों की मौत हो गई थी। आरोपियों को गिरफ्तार कर दोनों बार को सील कर दिया गया है। पुलिस अब सभी आरोपियों पर रासुका की कार्यवाही के लिए कलेक्टर को जांच रिपोर्ट देगी, वही इनसे जुड़े अन्य लोगों की तलाश भी की जा रही है।

डबरा- कच्ची शराब के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई, भारी मात्रा में शराब और लहान जब्त

दरअसल, इंदौर में बार संचालक लोगों को शराब के रूप में जहर परोस रहे थे और जहरीली शराब पीने के कारण पांच युवकों की मौत हो गई थी। इसके बाद पुलिस ने दो बार सील कर बार संचालक सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। बता दें कि इंदौर के एरोड्रम स्थित बांगड़दा में पैराडाइज बार और मरीमाता चौराहे पर स्थित सपना बार में पिछले दिनों शराब पीने से पांच लोगो की मौत हो गई थी। वहीं दो लोगों का अब भी अस्पताल में इलाज जारी है और उनकी हालत नाजुक है। मामले के बाद पुलिस ने दोनों बार को सील कर शराब के सैंपल जाँच के लिए भेजे थे जिसमे पाया की शराब जहरीली थी उसमे मीथेन अल्कोहल मिक्स था जिससे युवकों की मौत हो गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है और शनिवार को सपना बार और पेराडाइज बार के संचालक सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनके बार को सील कर बार का लायसेंस भी आबकारी विभाग ने निरस्त कर दिया है।

इस मामले को लेकर इंदौर डीआईजी मनीष कपूरिया ने बताया कि पुलिस इसकी पूरी चेन तोड़ने लगी है। वहीं पुलिस का मानना है कि जहरीली शराब खंडवा के मोटक्का में बनती है और वहीं पैकिंग कर उन्हें अन्य जगह सप्लाई किया जाता है। फिलहाल, पुलिस सभी बिन्दुओं पर जांच कर रही है और पूरे मामले की जांच एसपी पश्चिम महेशचंद्र जैन को सौंपी गई है। बता दे कि इस संगीन मामले में कई आरोपी ऐसे है जो पुलिस के निशाने पर हैं और पुलिस उनकी जन्मकुंडली खंगाल रही है, जो आने वाले समय मे जहरीली शराब कांड आरोपी बन सकते हैं। फिलहाल, पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर रही है और ये पता लगा रही है कि आरोपी कहां से जहरीली शराब लाते थे और उन्हें कौन सप्लाई करता था। बहरहाल पुलिस ने पांच युवकों की मौत के बाद पांच आरोपियों को तो गिरफ्तार कर लिया लेकिन देखना होगा की पुलिस क्या इन जहरीली शराब माफिया की चेन ब्रेक कर पाती है या आगे भी ये सिलसिला बदस्तूर जारी रहेगा।