सबसे कठिन सीट से लड़ेंगे दिग्विजय.? सिंधिया ने किया नाथ का समर्थन

jyotiraditya-scindia-speaks-on-kamalnath-statement-digvijay-fight-elections-in-mp

भोपाल। लोकसभा चुनाव से पहले चुनावी हलचल तेज हो चली है। कांग्रेस में सीटो को लेकर जबरदस्त मंथन किया जा रहा है। कांग्रेस ने अभी तक चार लिस्ट जारी कर दी है, लेकिन मध्यप्रदेश में अभी तक एक भी उम्मीदवार की घोषणा नही हुई है। हालांकि कुछ नामों पर सहमति बन गई है लेकिन सर्वे के बदले समीकरण के बाद गुना सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और वरिष्ठ नेता दिग्विजय के नाम पर अभी सहमति नही बन पाई है। इस बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान को लेकर चर्चा गरमा गई है, कमलनाथ चाहते हैं कि दिग्विजय सिंह सबसे कठिन सीट से चुनाव लड़ें, अब सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी कमलनाथ के बयान का समर्थन करते हुए भाजपा के गढ़ वाली सीट से दिग्विजय को चुनाव लड़ने की बात कही है। उन्होंने कहा जिन सीटों पर हम कई सालों से जीत नहीं पाए वहां मजबूत प्रत्याशी उतारना कांग्रेस का लक्ष्य है।

सिंधिया ने खुद के चुनाव लड़ने पर कहा है कि  मैं कहां से चुनाव लडूं, यह कांग्रेस अध्यक्ष को तय करना है। मैं सांसद कही से भी रहूं, लेकिन विकास पूरे प्रदेश का  करूंगा। बता दे कि अभी तक सिंधिया का गुना से नाम तय माना जा रहा था, लेकिन  हाल ही में करवाए गए सर्वे में गुना में परिस्थितियां अनूकूल नही पाई गई है, जिसके चलते सिंधिया की सीट को लेकर फिर से पार्टी में मंथन किया जा रहा है। सुत्रों की माने तो सिंधिया ग्वालियर से और गुना से प्रियदर्शनी चुनाव लड़ सकती है।  

दरअसल, यूपी में चुनावी प्रचार करने के बाद सिंधिया जेट एयरवेज की फ्लाइट से रविवार की सुबह भोपाल पहुंचे है,वे यहां से गुना जाएंगे, जहां उनका दौरा कार्यक्रम पूर्व निर्धारित है। भोपाल में मीडिया से चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि   कहां से चुनाव लडूं, यह कांग्रेस अध्यक्ष को तय करना है। मैं सांसद कही से भी रहूं, लेकिन विकास पूरे प्रदेश का  करूंगा। वही तीन राज्यों में जीत के बाद सिंधिया ने लोकसभा चुनाव में भी जीत का दावा किया। सिंधिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश  और मध्य प्रदेश या कही की भी बात हो सीटे जीतने का अनुमान एक ही धड़ा लगा सकता है वो है देश की जनता। एक या दो बड़े गठबंधन की तैयारी हम कर रहे है। हम 2022 की भी तैयारी कर रहे है। जब यूपी में भी कांग्रेस की सरकार आएगी। सिंधिया ने कहा कि लोकसभा चुनाव राष्ट्रीय स्तर पर जनता के लिए  न्याय की लड़ाई है।  ।

दिग्विजय के टफ सीट से लड़ने पर बोले सिंधिया

सीएम कमलनाथ के दिग्विजय सिंह के टफ सीट से चुनाव लड़ने के बयान सिंधिया ने कहा कि यह नीति कांग्रेस हाईकमान तय करेगी , लेकिन स्पष्ट रूप से यह सही है कि जिन सीटो को लंबे समय से जीत नही पाए उन सीटो पर मजबूत प्रत्याशी मैदान में विधानसभा चुनाव की तरह ही उतारा जाएगा, यह हमारा लक्ष्य है। सीएम कमलनाथ ने दिग्विजय जी को यह सुझाव दिया है, चुंकी सालों से कई सीटों पर बीजेपी कब्जा रहा है। कांग्रेस की मजबूत नींव मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान से बनेगी। बता दे कि शनिवार को छिंदवाड़ा में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दिग्विजय के चुनाव लड़ने पर कहा था कि मै चाहता हूं कि वे एमपी की सबसे कठिन सीट से लड़े, प्रदेश की कई ऐसी सीटे है जिनपर कांग्रेस सालों से जगह नही बना पाई है, अंतिम फैसला दिग्विजय को करना है। बता दें कि भोपाल, इंदौर, भिंड, दमोह, विदिशा समेत कई ऐसे सीट हैं जो बीजेपी का मजबूत गढ़ रही है और यहां तीन दशक से कांग्रेस को जीत नहीं मिली है| अब सवाल खड़ा हो रहा है कि क्या दिग्विजय राजगढ़ जैसी सुरक्षित सीट की जगह ऐसी कठिन सीट से लड़ेंगे या नहीं| 

पीएम मोदी पर कसा तंज

सिंंधिया ने इस दौरान पीएम मोदी पर मैं चौकीदार कैंपन पर जमकर हमला बोला। सिंधिया ने कहा कि अब उल्टा चोर चौकीदार को डांटे ।जिनके राज में भष्ट्राचार का नया आयाम तय किये गए , अब वही रक्षा मंत्रालय का काम देख रहे है। मोदी के पीएमओ ने रक्षा मंत्रालय को अपने हाथ मे लिया है। मेक इन इंडिया की पूरी पॉलिसी खारिज कर दी। राष्ट्र के खजाने की भी चाभी एक हाथ में दे दी और कहते है देश की चौकीदारी देंगे।