केरल-महाराष्ट्र के बढ़ते आंकड़ों ने बढ़ाई चिंता, सामने आया सीएम शिवराज का बड़ा बयान

शिवराज सिंह चौहान (MP Chief Minister Shivraj Singh Chouhan)  ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर नियंत्रित हुई है, परन्तु तीसरी लहर (Corona Third Wave) की संभावनाएँ अभी समाप्त नहीं हुई हैं।

सीएम शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में आज शुक्रवार को कोरोना (MP Corona) के 11 नए पॉजिटिव केस सामने आये हैं, इसी के साथ एक्टिव केसों की संख्या 121 हो गई है। कोरोना संक्रमण (Coronavirus) में प्रदेश देश में 30वें स्थान पर है।  प्रदेश की कोरोना पॉजिटिविटी दर 0.01 प्रतिशत है और प्रदेश में लगभग 70 हजार टेस्ट रोज हो रहे हैं। केरल और महाराष्ट्र (Maharashtra) में तेजी से बढ़ रहे आंकड़ों के चलते सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जताई है।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश में युवा कांग्रेस का हल्ला बोल, 11 अगस्त को विधानसभा घेराव की तैयारी

आज कोरोना समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (MP Chief Minister Shivraj Singh Chouhan)  ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर नियंत्रित हुई है, परन्तु तीसरी लहर (Corona Third Wave) की संभावनाएँ अभी समाप्त नहीं हुई हैं। केरल (Kerala) एवं महाराष्ट्र राज्यों में अभी भी बड़ी संख्या में कोरोना के प्रकरण आ रहे हैं। अत: पूरी सतर्कता एवं सावधानियाँ रखें तथा तीसरी लहर संबंधी तैयारियाँ पूरी मुस्तैदी से करें। कार्य में थोड़ी भी लापरवाही नहीं होनी चाहिए। प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का कार्य तेज गति से किया जाए। केन्द्र से MP को पर्याप्त संख्या में वैक्सीन मिल रही है तथा आगे भी मिलती रहेगी। कोरोना टीकाकरण में देश में MP का चौथा स्थान है।

मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि MP के  सभी कलेक्टर अपने-अपने जिलों में तीसरी लहर की तैयारियों में अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाने, ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना, आईसीयू वार्डस, सिटीस्केन और अन्य जाँच व्यवस्थाएँ, आवश्यक दवाओं की व्यवस्था, विशेषज्ञ चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ, तकनीशियन आदि की व्यवस्था समय पर सुनिश्चित करें। समीक्षा में पाया गया कि पन्ना, सीधी एवं अलीराजपुर जिलों में तुलनात्मक रूप से वैक्सीनेशन का कार्य धीमा है। इन सभी जिलों में वैक्सीनेशन की गति बढ़ाने के निर्देश दिए गए। वैक्सीनेशन के लिए लोगों को जागरूक किया जाए।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: 4 सिस्टम एक्टिव, मप्र के 24 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी

मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि कोरोना वैक्सीन के दूसरे डोज़ के लिए टीकाकरण केन्द्रों पर अलग व्यवस्था करें। गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए विशेष व्यवस्था को जारी रखें।प्रदेश के 47 प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज़ लग चुका है, वहीं 9 प्रतिशत को दूसरा डोज़ लगा है। दूसरा डोज़ लगाने पर विशेष ध्यान दें।