Lok Sabha Election 2024 : ‘निवर्तमान’ पर घमासान, जयराम रमेश ने पीएम मोदी के तंज़ का कुछ यूँ दिया जवाब

बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही अपनी अपनी सरकार बनने का दावा कर रही है। इसी क्रम में जयराम रमेश लगातार पीएम मोदी को 'निवर्तमान प्रधानमंत्री' कहकर संबोधित कर रहे हैं। इसका उल्लेख पीएम ने अपनी सभा में किया और कहा कि चौथे और पाँचवें चरण के मतदान के बाद उनकी ज़बान से ये शब्द नहीं निकला हैं।

Jairam

Lok Sabha Election 2024 : लोकसभा चुनाव में अब मतदान के दो चरण बाक़ी हैं और सबकी निगाहें चार जून पर टिकी हैं। बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही अपनी अपनी सरकार बनने का दावा कर रहे हैं। नेताओं का एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला भी जारी है। इसी क्रम में पिछले कुछ समय से पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश पीएम मोदी को ‘निवर्तमान प्रधानमंत्री’ कहकर संबोधित कर रहे हैं। इस शब्द को लेकर अब ये दोनों आमने सामने हैं।

‘निवर्तमान’ शब्द को लेकर बीजेपी-कांग्रेस आमने सामने 

पीएम मोदी ने अपने चुनावी भाषण में जयराम रमेश पर हमला करते हुए कहा कि ‘पहले वो लगातार कह रहे थे निवर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। इसमें उनको मज़ा आ रहा था, मैं कुछ बोलता नहीं था। लेकिन चौथे और पाँचवें चरण के मतदान के बाद उन्होंने निवर्तमान वाला मज़ाक करना छोड़ दिया है। इसके जवाब में जयराम रमेश ने एक्स पर एक क्लिप शेयर की है जिसमें उनका एक दिन पहले 22 मई का वीडियो है जिसमें वे निवर्तमान शब्द का प्रयोग कर रहे हैं। बता दें कि निवर्तमान शब्द के उपयोग का अर्थ ये है कि वो कह रहे हैं कि इन चुनावों में नरेंद्र मोदी का जाना तय है।

जयराम रमेश ने पीएम मोदी पर किया तंज़ 

पीएम मोदी के भाषण के उस अंश और अपने बयान वाले वीडियो के साथ जयराम रमेश ने एक्स पर लिखा है कि ‘मैं इस बात के लिए शुक्रगुजार हूं कि निवर्तमान प्रधानमंत्री ने मेरे ट्वीट्स को अपने संज्ञान में लिया है। लेकिन वह यहां भी झूठ बोल रहे हैं कि मैंने चौथे और पांचवें पेज़ के बाद ‘निवर्तमान’ शब्द का इस्तेमाल करना बंद कर दिया है। उनके व्यक्तित्व में झूठ इस क़दर रच-बस गया है कि श्रावस्ती में बुद्ध पूर्णिमा की पूर्व संध्या पर भी उन्होंने दिखा दिया कि वह कितने बड़े झूठजीवी हैं। उनके मैनेजर्स ने उन्हें बिल्कुल ग़लत सूचना दी है क्योंकि आज भी मैंने उन्हें ‘निवर्तमान प्रधानमंत्री’ ही कहा है। लगता है निवर्तमान शब्द उनको काफ़ी चुभ रहा था। दरअसल जिनको झूठ बोलने की आदत होती है, उन्हें सच हमेशा कड़वा ही लगता है। प्रधानमंत्री ‘निवर्तमान’ हैं, और 4 जून को टेम्पो से उनके निवास से उनकी विदाई होगी।’


About Author
श्रुति कुशवाहा

श्रुति कुशवाहा

2001 में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल से पत्रकारिता में स्नातकोत्तर (M.J, Masters of Journalism)। 2001 से 2013 तक ईटीवी हैदराबाद, सहारा न्यूज दिल्ली-भोपाल, लाइव इंडिया मुंबई में कार्य अनुभव। साहित्य पठन-पाठन में विशेष रूचि।