मप्र उपचुनाव 2021: जोबट से कांग्रेस का चेहरा लगभग तय, औपचारिक घोषणा बाकी

अब चुंकि भाई अलीराजपुर से MLA है, इसलिए महेश पटेल ने जोबट विधानसभा सीट पर रूख कर लिया है।

उपचुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आगामी उपचुनाव को लेकर मध्य प्रदेश (MP By-election 2021) में हलचल तेज हो गई है।कांग्रेस ने एक के बाद एक प्रत्याशियों के नामों का ऐलान करना शुरु कर दिया है। पृथ्वीपुर विधानसभा सीट से जहां कांग्रेस ने स्व. बृजेंद्र सिंह राठौर के पुत्र नितेंद्र सिंह राठौर को प्रत्याशी घोषित किया है।वही अलीराजपुर की जोबट सीट(Jobat Assembly seat)  से महेश पटेल का नाम लगभग तय माना जा रहा है। हालांकि अभी औपचारिक घोषणा होना बाकी है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, मिलेगा डबल DA का लाभ, अक्टूबर में बढ़कर आएगी सैलरी

महेश पटेल (Mahesh Patel) कांग्रेस के जिलाध्यक्ष है। इसके पहले सन 2003/2008 मे अलीराजपुर विधानसभा का चुनाव लडकर हार चुके है । 2013 मे पत्नी सेना पटेल भी अलीराजपुर विधानसभा (Alirajpur Assembly Constituency) से चुनाव हार चुकी है लेकिन 2018 मे कांग्रेस ने महेश के छोटे भाई मुकेश पटेल को टिकट दिया तो मुकेश पटेल ने नागरसिंह चौहान ( 3 बार के BJP MLA ) को 22 हजार वोटो से हरा दिया।माना जा रहा है कि अभी  कमलनाथ (Kamal Nath) कैंप के जरिए महेश की दावेदारी है और उनका नाम लगभग तय माना जा रहा है, हालांकि औपचारिक ऐलान होना बाकी है।

अब चुंकि भाई अलीराजपुर से MLA है, इसलिए महेश पटेल ने जोबट विधानसभा सीट पर रूख कर लिया है, इनकी पत्नी सेना पटेल दो बार अलीराजपुर नगरपालिका अध्यक्ष रही, लेकिन दूसरे कार्यकाल ने अनियमितता के आरोप मे शासन के द्वारा हटा दी गई। इसके साथ ही अयोग्य 2 साल चुनाव लडने के लिए भी घोषित की गई। इनके पिता जिले के बाहुबली नेता थे, जो 2000 उपचुनाव मे अलीराजपुर के विधायक बने थे, लेकिन अपना कार्यकाल पूर्ण करने के कुछ हफ्तों पहले उनका निधन हो गया था।

यह भी पढ़े.. सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा- नीमच में खुलेगा मेडिकल कॉलेज, सरकार ला रही ये योजना

बता दे कि मध्य प्रदेश की खंडवा लोकसभा सीट और 3 विधानसभा सीटों जोबट, रैगांव और पृथ्वीपुर उपचुनाव के लिए 30 अक्टूबर को मतदान होगा और 1 अक्टूबर को इसका नोटिफिकेशन जारी होगा, जिसके बाद 8 अक्टूबर तक उम्मीदवार नामांकन दाखिल कर सकेंगे। 11 अक्टूबर को नामांकन की जांच की जाएगी। 13 अक्टूबर को नामांकन वापस लेने की अंतिम तारीख रखी गई है। 30 अक्टूबर को मतदान होगा, जिसके बाद 2 नवंबर को वोटों की गिनती की जाएगी।