मप्र विधानसभा : भाजपा लड़ेगी स्पीकर का चुनाव, विजय शाह को बनाया उम्मीदवार

9894
MP-Assembly--BJP-will-contest-Speaker-election-this-mla-will-be-candidate-from-party

भोपाल| मध्य प्रदेश की पंद्रहवीं विधानसभा का सत्र आज से शुरू हो गया  है। सोमवार को विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी। विधानसभा अध्यक्ष के लिए चुनाव होना तय हो गया है| अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों ने आवेदन लिए हैं। कांग्रेस की ओर से गोटेगांव से नवनिर्वाचित विधायक और पूर्व मंत्री नर्मदाप्रसाद प्रजापति प्रत्याशी बनाए गए हैं। विस अध्यक्ष प्रत्याशी प्रजापति ने मुख्यमंत्री कमलनाथ व अन्य नेताओं के साथ सोमवार सुबह फॉर्म भी दाखिल कर दिया है।वहीं भाजपा भी अपना प्रत्याशी उतारने जा रही है| 

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा है कि भाजपा विधानसभा अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ेगी और पूर्व मंत्री विजय शाह विधानसभा अध्यक्ष पद के उम्मीदवार होंगे | मप्र बीजेपी अध्यक्ष राकेश सिंह ने प्रोटेम स्पीकर पर आपत्ति जताई है| उन्होंने कहा प्रोटेम स्पीकर बनाकर काँग्रेस ने परंपरा को तोड़ा है| मोस्ट सीनियर विधायक प्रोटेम स्पीकर बनता है | काँग्रेस के परंपरा तोड़ने के कारण हम विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ेंगे| खुद सीएम कमलनाथ मोस्ट सीनियर सासंद होने के चलते प्रोटेम स्पीकर बन चुके है| इससे पहले बीजेपी के उम्मीदवार खड़ा करने को लेकर असमंजस की स्तिथि थी| अब विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होने पर यह भी संभावना है कि फिर उपाध्यक्ष पद विपक्ष को देने की परंपरा को तोड़कर कांग्रेस चुनाव कराए। 

सत्र के शुरू होते ही विधानसभा अध्यक्ष के लिए कांग्रेस के उम्मीदवार गोटेगांव से विधायक एनपी प्रजापति ने अपना नामांकन दाखिल किया। इस दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ भी मौजूद थे। वहीं भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे भोपाल पहुंचे। उन्होंने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के साथ महत्वपूर्ण बैठक की। बैठक के बाद राकेश सिंह ने घोषणा की कि भाजपा स्पीकर पद के लिए चुनाव लड़ेगी। हरसूद विधायक विजय शाह को उम्मीदवार बनाए जाने की भी घोषणा की| इसके बाद विजय शाह ने नामांकन जमा किया| पंद्रहवीं विधानसभा के पहले सत्र में पहले दिन प्रोटेम स्पीकर दीपक सक्सेना नवनिर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाएंगे। एक-एक कर विधायकों की शपथ होगी और आठ जनवरी को पूर्वान्ह तक शपथ चलने की संभावना है। शपथ के बाद विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा और फिर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का अभिभाषण होगा और इस पर कृतज्ञता ज्ञापन प्रस्ताव पेश किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here