MP Election: प्रदेश में चुनावी तैयारियां तेज, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कलेक्टरों को दिए ये निर्देश, युवा मतदाता को जोड़ने भी चलेगा अभियान

Pooja Khodani
Published on -

MP Assemble Election 2023-24 : मध्य प्रदेश में होने वाले आगामी चुनावों को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने तैयारियां शुरू कर दी है। आयोग द्वारा वोटर लिस्ट को अपडेट किया जा रहा है।इसी कड़ी में आज गुरूवार को आरसीव्हीपी नरोन्हा प्रशासन अकादमी में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों के दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी  अनुपम राजन की उपस्थिति में आज समापन हुआ। इसमें प्रदेश के सभी 52 जिलों के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी शामिल हुए।

राजन ने कहा कि प्रदेश में 2 अगस्त से द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण का कार्य शुरू होगा। इस अवधि में 2 से 31 अगस्त तक प्रदेश के सभी मतदान केंद्रों पर प्रत्येक कार्य दिवस में कार्यालयीन समय पर बीएलओ की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। राजन ने मतदाताओं के नाम जोड़ने, हटाने और संशोधन के लिए आए आवेदनों का तत्काल निराकरण करने और सेक्टर अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए।

केंद्रों का करें भौतिक सत्यापन, सेक्टर अधिकारी अगस्त मे करेंगे वोटर लिस्ट का वाचन

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी  राजन ने अधिकारियों से कहा कि मतदान केंद्रों का भौतिक सत्यापन करें। वल्नरेबिलिटी मैपिंग, मतदान केंद्रों पर बैठने की व्यवस्था, पीने के पानी, बिजली और शौचालय की सुविधा भी सुनिश्चित करायी। दो किमी से अधिक दूरी पर एक मतदान केन्द्र और एक मतदान केंद्र पर 1500 से अधिक मतदाताओं की संख्या न हो।

द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के दौरान 3 अगस्त से 10 अगस्त तक सेक्टर अधिकारी मतदाताओं और बीएलओ की उपस्थिति में मतदाता सूची का वाचन करेंगे। 5 जनवरी 2023 के बाद से जितने नाम मतदाता सूची से काटे गए हैं, उसका भी सेक्टर अधिकारी द्वारा भौतिक सत्यापन किया जाएगा। साथ ही एक घर में यदि 6 से अधिक मतदाता हैं तो उसका भी सेक्टर अधिकारी द्वारा सत्यापन किया जाएगा।

युवा मतदाताओं को जोड़ने के लिये चलाएं विशेष अभियान

युवा मतदाताओं को जोड़ने के लिए विद्यालय और महाविद्यालयों में विशेष अभियान चलाए जाएं। मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए प्रचार प्रसार की गतिविधियों के तहत मतदाताओं को जागरूक किया जाए। इसके साथ ही जिन क्षेत्रों में महिला मतदाताओं की संख्या कम है उन क्षेत्रों में विद्यालय, महाविद्यालय की छात्राओं, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं की मदद लेकर संख्या बढ़ाने के प्रयास किए जाए। समापन अवसर पर संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी  राकेश सिंह, उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी  राजेश यादव उपस्थित थे।

972 से अधिक अधिकारियों को 9 चरणों में दिया गया प्रशिक्षण

आरसीव्हीपी नरोन्हा प्रशासन अकादमी में उपजिला निर्वाचन अधिकारी, रिटर्निंग अधिकारी और सहायक रिटर्निंग अधिकारियों के अंतिम चरण के सर्टिफिकेशन प्रोग्राम के प्रशिक्षण कार्यक्रम में 140 से अधिक अधिकारियों ने विधानसभा निर्वाचन संबंधी प्रशिक्षण प्राप्त किया। इस अवसर पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजन ने अधिकारियों को विधानसभा निर्वाचन 2023 के लिए आवश्यक निर्देश दिए। आगामी विधानसभा निर्वाचन-2023 की तैयारियों को लेकर 12 जून से शुरू हुए उपजिला निर्वाचन अधिकारी, रिटर्निंग अधिकारी और सहायक रिटर्निग अधिकारियों के सर्टिफकेशन प्रोग्राम के प्रशिक्षण कार्यक्रम का 27 जुलाई को समापन हुआ। 9 चरणों में 972 से अधिक अधिकारियों को भारत निर्वाचन आयोग के राष्ट्रीय स्तर के मास्टर ट्रेनर्स द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। समापन अवसर पर संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री राकेश सिंह उपस्थित थे।

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News